पारिवारिक कलह के कारण’ ‘हो रही हिंसा’ से ‘उजड़ रहे परिवार

5/16/2021 6:12:06 AM

’वर्तमान युग में परिवारों में छोटी-छोटी बातों और अपनी बात मनवाने की जिद को लेकर गृह कलह आम हो गई है। इसके परिणामस्वरूप समाज में लगातार दुखद घटनाएं होने से परिवार उजड़ रहे हैं। यह समस्या कितना विकराल रूप धारण कर गई है यह निम्र घटनाओं से स्पष्ट है : 

* 1 मई को उत्तर प्रदेश के बहराईच के ‘बंजारिया’ गांव में घरेलू कलह से तंग एक महिला ने अपनी दो बेटियों के साथ कुएं में कूद कर जान दे दी।
 * 4 मई को बिहार के पूर्वी च पारण जिले के ‘मूर्तिया’ गांव में पारिवारिक कलह से दुखी एक गर्भवती महिला रेलगाड़ी के आगे कूद गई।
* 8 मई को उत्तर प्रदेश में सीतापुर के ‘त बोर’ कस्बे में सुबह-सवेरे हुए पारिवारिक विवाद के चलते एक बुजुर्ग ने आम के पेड़ से फंदा लगा लिया।
* 8-9 मई की रात को प्रेम विवाह करवाने पर अड़ी मानसा के निकटवर्ती गांव धींगड़ की युवती को उसके पिता ने रोटी में कोई जहरीली चीज मिलाकर खिला दी जिससे उसकी मृत्यु हो गई। 

* 9 मई को ससुरालियों से दुखी होकर गिद्दड़बाहा के गांव ‘मदीर’ के एक युवक ने फंदा लगा लिया। मृतक युवक के पिता ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि उसका बेेटा ससुराल से अपनी पत्नी को लेने गांव ‘बारू’ गया था परंतु इसकी सास और साले ने बेइज्जती करते हुए कहा कि जब तक वह नया मकान तैयार नहीं करेगा वे अपनी बेटी को नहीं भेजेंगे। ससुराल वालों की इन बातों से आहत होकर युवक ने फंदा लगाकर जान दे दी। 
* 11 मई को भिखीविंड में एक व्यक्ति द्वारा अपने बेटे को उसकी प्रेमिका से शादी करवाने की अनुमति न देने पर उसने आत्महत्या करने के इरादे से स्वयं को गोली मार ली जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। 

* 11 मई को कपूरथला के ‘नवांपिंड भट्टे’ निवासी 22 वर्षीय युवक ने अपनी पत्नी से अनबन और झगड़े से दुखी होकर आत्महत्या कर ली।
* 12 मई को बंगा के निकटवर्ती गांव ‘माहिल गाहिलां’ में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की निर्ममता से हत्या कर दी। पति-पत्नी में इस बात को लेकर झगड़ा रहता था कि पति के अपनी किसी रिश्तेदार से अवैध संबंध हैं।
* 13 मई को सुल्तानपुर लोधी के गांव ‘बुहानीपुर’ में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी के चरित्र पर शक होने के कारण उसी की चुन्नी से गला घोंट कर उसकी हत्या कर दी। 

* 14 मई को फगवाड़ा के नजदीकी गांव ‘चाचोकी’ में रहने वाले एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी के अवैध संबंधों से दुखी होकर सल्फास निगल लिया जिससे उसकी मौत हो गई।
* 14 मई रात को जालंधर के निकट चौगिट्टी में एक व्यक्ति ने अपनी सो रही पत्नी पर लोहे की छड़ से वार करके उसे मार डाला।
* 14 मई को लुधियाना के पॉश इलाके आत्मनगर में एक प्रसिद्ध कारोबारी ने प्रापर्टी विवाद के चलते अपनी पत्नी को दो दिन भूखी रखने के बाद गला दबा कर मार डाला। मृतका के परिजनों के अनुसार मृतका के नाम काफी प्रापर्टी थी, जिसे उसका पति हड़पना चाहता था।
* 14 मई को फिरोजपुर के गांव गाहलेवाला में एक व्यक्ति ने घरेलू विवाद के चलते अपने भतीजे को गोली मार दी। 

* 14 मई को मिर्जापुर के ‘सरिया’ नामक गांव में घरेलू झगड़े से तंग आकर एक 22 वर्षीय युवक ने कुएं में कूद कर अपनी जान दे दी।
* 14 मई को उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले की ‘सुरसी’ चौकी में तैनात दारोगा ने पारिवारिक कलह के चलते अपनी कनपटी पर गोली मार कर जान दे दी।
* 15 मई को उत्तर प्रदेश में गाजीपुर के दिलदार नगर थाना के ‘उसिया’ गांव में सुबह-सवेरे घरेलू कलह से तंग आ कर एक सिपाही ने अपनी पत्नी की हत्या और 7 बच्चों को गंभीर रूप से घायल करने के बाद स्वयं भी आत्महत्या कर ली। 

उक्त घटनाओं से स्पष्ट है कि आमतौर पर वैचारिक मतभेद, क्रोध, पति-पत्नी द्वारा एक-दूसरे का अपमान, धन का नशा आदि के परिणामस्वरूप  लोग हत्या तथा आत्महत्या जैसे अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। यह किसी न किसी रूप में आज के भौतिकवादी युग में लोगों के बीच बढ़ रही निराशा और हताशा का परिणाम है जिसमें कोरोना महामारी के परिणामस्वरूप पैदा हुए हालात ने और वृद्धि कर दी है। अत: ऐसी गंभीर स्थिति में सभी लोगों को हालात का सामना करते हुए धैर्य से काम लेने की जरूरत है ताकि क्षणिक आवेश में परिवारों को तबाह और बच्चों को अनाथ होने से बचाया जा सके।—विजय कुमार 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static