अच्छे दौर को बुरे वक्त में बदल देता है पैर धोने का ये तरीका

Wednesday, September 6, 2017 8:58 AM
अच्छे दौर को बुरे वक्त में बदल देता है पैर धोने का ये तरीका

ज्योतिष की शाखा सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार किसी भी व्यक्ति के पैर भाग्य या दुर्भाग्य के संकेत देते हैं। कुछ ऐसे काम हैं जो पैरों से नहीं करने चाहिए अन्यथा जीवन का अच्छा दौर भी बुरे वक्त में बदल जाता है। वास्तु विद्वानों का भी मानना है की पैरों को सही दिशा में रखकर सोना चाहिए, यहां तक की पैरों की सफाई का भी बहुत महत्व है। आईए जानें, पैरों से संबंधित खास जानकारी-


जब भी बाहर से आकर घर में प्रवेश करें तो सबसे पहले जूते-मोजे उतारें और पैरों को धोएं। इससे शरीर में समाई सभी तरह की नेगेटिव एनर्जी का नाश होता है। तन-मन स्वच्छ और स्वस्थ होता है।


एकाग्रता बढ़ाने और सुखी जीवन के लिए पूजा करने से पहले या मंदिर जाने से पूर्व पैर अवश्य धोएं। 


योगाभ्यास से तन और मन का मिलन होता है। इसमें किसी भी तरह की बाधा पैदा न हो तो इसके लिए योग पर बैठने से पहले पैर धोएं।


शास्त्रों के अनुसार अच्छी और गहरी नींद के लिए सोने से पहले पैर अवश्य धोएं। शरीर पर जितनी भी नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव होता है वह अलग हो जाता है। नींद न आती हो या बुरे-डरावने सपने सताते हैं तो पैर धोकर अच्छे से पोंछ कर सोएं। 
पूर्व दिशा की ओर पैर करकर सोने से नींद में खलल पड़ता है। उत्तर दिशा की ओर पैर करके सोने से स्वास्थ्य तथा आर्थिक स्थितियों में सुधार होता है। पश्चिम दिशा की ओर पैर करके सोने से शारीरिक थकान के साथ मानसिक शांति भी प्राप्त होती है। अन्य समय दक्षिण की ओर पैर करके सोना निषिद्ध है।


भोजन करने से पहले हाथ तो सभी धोते हैं, क्या आप जानते हैं पैर धोना भी उतना ही अनिर्वाय है। वैज्ञानिक कहते हैं पैरों के तलवे जितने साफ होते हैं, पाचन शक्ति उतनी मजबूत होती है।


कहते हैं पैर के ऊपर पैर रगड़ कर कभी भी साफ न करें, धनहानि होती है।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!