शनि का असर अब भाजपा पर पड़ेगा, पार्टी में अंतर्कलह बढ़ेगी

Thursday, August 31, 2017 8:43 AM
शनि का असर अब भाजपा पर पड़ेगा, पार्टी में अंतर्कलह बढ़ेगी

देश की राजनीति को जल्द ही आकाश के सितारे फिर से हिलाने जा रहे हैं। भाजपा को इस समय सूर्य महादशा में शुक्र की अंतर्दशा 19 जून 2018 तक रहेगी। कनाडा के ज्योतिषी प्रो. पवन कुमार शर्मा के अनुसार भाजपा को शुक्र की अंतर्दशा के समय आलोचनाओं, असफलताओं, आरोपों व हानि के अलावा कुछ नहीं मिलेगा। पार्टी कई प्रकार की अनैतिक गतिविधियों में उलझ जाएगी। शुक्र पर शनि की दृष्टि के कारण जनता पार्टी को दंड देगी, क्योंकि शनि न्यायकारक है। भाजपा के कई नेताओं पर आरोप लगेंगे व कइयों को दंड भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि जनता की नजरों में भाजपा की छवि को आघात लगने के आसार हैं। किसी महिला नेता के कारण भाजपा को बदनामी का सामना करना पड़ेगा। 


गोचर में शनि 26 अक्तूबर 2017 से लग्र से 7वें तथा चंद्रमा से दूसरे व सूर्य से दशम स्थान में संचार करेगा। गोचर में शनि लगभग जनवरी 2020 तक धनु राशि में चलेगा तथा उसकी दृष्टि चौथे भाव में प्लूटो पर रहेगी। 


19 जून 2018 से भाजपा को 10 वर्षों के लिए चंद्रमा की महादशा चलेगी। चंद्रमा दूसरे भाव का स्वामी होकर छठे भाव में नीच राशि में स्थित है। चंद्र पर 12वें भाव के स्वामी शुक्र की दृष्टि है, जिस कारण जून 2018 के बाद भाजपा के भीतर अंतर्कलह तेज हो जाएगी तथा भाजपा नेता खुलकर एक-दूसरे पर आरोप लगाएंगे। 


सूर्य की तुलना में चंद्रमा कमजोर है। 2019 की पार्टी केंद्र में अपने बलबूते पर बहुमत हासिल करने में असफल रहेगी। जनता इसकी नीतियों व फैसलों की आलोचना करेगी। कुछ नेताओं को त्यागपत्र देना पड़ेगा। युवा वर्ग का समर्थन भी इस पार्टी को घटता हुआ दिखाई देगा। भाजपा को केंद्र में सत्ता में लाने में सूर्य का योगदान था, जिसका 6 वर्षों का समय 19 जून 2018 को समाप्त हो रहा है। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!