विश्व खाद्य सम्मेलन में विदेशी मेहमानों को परोसी जाएगी ‘खिचड़ी’

Wednesday, November 1, 2017 4:13 PM
विश्व खाद्य सम्मेलन में विदेशी मेहमानों को परोसी जाएगी ‘खिचड़ी’

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी में तीन नवंबर से शुरू होने वाली ‘विश्व खाद्य भारत’ प्रदर्शनी एवं सम्मेलन में विदेशी मेहमानों के समक्ष देश में हर घर में पकने वाले व्यंजन ‘खिचड़ी’ को परोसा जाएगा, जिसे भारत के प्रमुख खानसामा संजीव कपूर 1,000 लीटर क्षमता की विशाल कढ़ाई में तैयार करेंगे।

विश्व खाद्य भारत के आयोजन के दूसरे दिन चार नवंबर को गुरुपर्व के दिन 1,000 लीटर की क्षमता वाली कढ़ाई में 800 किलो ‘खिचड़ी’ को चावल, गेहूं, मूंग, जौ, बाजरा, रागी और तमाम अन्य पोषक अनाजों के साथ तैयार किया जाएगा। इसके लिए आयोजन स्थल पर 1,000 लीटर क्षमता वाली कढ़ाई रखी गई है जिसका व्यास सात फीट है और यह तीन परत वाले स्टेनलेस स्टील की बनी है। संजीव कपूर का यह प्रयास गिनिज बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल हो सकता है। इस प्रयास का मकसद ‘खिचड़ी को ब्रांड इंडिया खाद्य’ के रूप में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रिय बनाना और लोगों में भारतीय खाद्य उत्पादों के प्रति रुचि पैदा करना है।
PunjabKesari
खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी जानकारी देते हुए कहा, ‘‘गुरु पर्व के दिन यह आयोजन होगा और इसमें तैयार खिचड़ी विदेशी मेहमानों के साथ साथ गरीबों में भी बांटी जाएगी। खिचड़ी एक ऐसा पकवान है जो गरीब-अमीर सबके यहां पकती है और इसे स्वास्थ्य के लिहाज से काफी पोषक माना जाता है।’’ खानसामा संजीव कपूर भी इस अवसर पर उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि इस खिचड़ी को बनाने में 50 लोग शामिल होंगे और इसके पीछे प्रयास भारत के खाद्य ब्रांड के तौर पर खिचड़ी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पेश करना है। इसे धीमी आंच पर पकाया जाएगा।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!