पश्चिम बंगाल में काल बैसाखी के चलते चार लोगों की मौत

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 12:43 AM (IST)

कोलकाता, 21 मई (भाषा) पश्चिम बंगाल के दक्षिण हिस्से में शनिवार को काल बैसाखी के साथ 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ तेज हवा चलने एवं वर्षा होने के कारण कम से कम चार लोगों की मौत हो गयी। राज्य आपदा प्रबंधन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी।
उन्होंने पीटीआई-भाषा को बताया कि पूर्व बर्धमान जिले में दीवार के ढह जाने से एक व्यक्ति की जान चली गयी, जबकि नदिया जिले में आकाशीय बिजली गिरने से एक अन्य व्यक्ति की मौत हो गयी।
पुलिस ने बताया कि यहां काल बैसाखी के दौरान रवींद्र सरोवर झील में एक नौका के पलट जाने से दो लड़कों की मौत हो गयी।
आपदा प्रबंधन मंत्री जावेद अहमद खान ने बताया कि कोलकाता में तेज आंधी-तूफान के कारण कई पेड़ उखड़ गये, जिससे यातायात प्रभावित हुआ।

भारत मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी का कहना है कि कोलकाता के अलावा उत्तरी एवं दक्षिणी 24 परगना, हुगली, पूरबा बर्धमान जिलों में काल बैसाखी के कारण राज्य के कई हिस्सों में 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चली।

वैसे तो इस वर्षा से गर्मी से राहत मिली लेकिन उसने यात्रियों के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी की। सड़कों पर बहुत कम वाहन नजर आये।
एक अधिकारी के मुताबिक यहां महानायक उत्तम कुमार एवं नेताजी स्टेशन के बीच मेट्रो रेल ट्रैक पर एक पेड़ टूटकर गिर गया, जिससे करीब 50 मिनट तक यातायात बाधित हुआ।
उन्होंने कहा, ‘‘ शाम को चार बजकर 40 मिनट से साढ़े पांच बजे तक (मेट्रो) सेवाएं प्रभावित रहीं।’’
उधर, हवाई अड्डा प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि काल बैसाखी के चलते नेताजी सुभाष चंद्रबोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर करीब डेढ़ घंटे तक विमान सेवाएं बाधित रहीं। उन्होंने बताया कि दो विमानों के मार्ग में बदलाव करना पड़ा।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News