यूरोप में कोविड-19 के खराब होते हालात से इंजीनियरिंग निर्यातक चिंतित

2020-10-27T19:29:35.843

कोलकाता, 27 अक्टूबर (भाषा) यूरोप में कोविड-19 संक्रमण के फिर से फैलने से इंजीनियरिंग निर्यातकों को इस साल निर्यात को लेकर चिंता है। यूरोप उनके लिए शीर्ष तीन बाजारों में से एक है।

भारतीय इंजीनियरिंग निर्यात संवर्द्धन परिषद (ईईपीसी इंडिया) के पूर्व अध्यक्ष राकेश शाह ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-सितंबर अवधि में देश का इंजीनियरिंग निर्यात सालाना आधार पर 13.73 प्रतिशत गिर गया है।
वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये संवाददाता सम्मेलन में शाह ने कहा, ‘‘ यूरोपीय संघ के सदस्य देशों में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति बिगड़ रही है। यदि हम पिछले वित्त वर्ष के निर्यात आंकड़े को भी छू लेते हैं तो हमें खुशी होगी क्योंकि यूरोपीय संघ देश के लिए इंजीनियरिंग निर्यात का तीसरा सबसे बड़ा बाजार है।’’
पिछले साल देश से कुल 75.8 अरब डॉलर का इंजरीनियरिंग निर्यात किया गया था।

उन्होंने कहा कि जुलाई-सितंबर अवधि में देश के इंजीनियरिंग निर्यात में 3.17 प्रतिशत की वृद्धि देखी गयी जबकि अप्रैल-जून तिमाही में 29.4 प्रतिशत की गिरावट रही।

शाह ने कहा कि इस क्षेत्र में धीरे-धीरे सुधार हो रहा था लेकिन यूरोपीय संघ सदस्य देशों में कोविड-19 संक्रमण को लेकर हालत बिगड़ती जा रही है। इससे निर्यातकों के बीच चिंता का माहौल है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News