REET 2021: राजस्थान में अब तक की सबसे बड़ी परीक्षा, CCTV की निगरानी में छात्र दे रहे परीक्षा

09/26/2021 12:46:02 PM

एजुकेशन डेस्क: राजस्थान में अब तक की सबसे बड़ी अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) की आज सुबह दस बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शुरु हुई और पहली पारी दोपहर में शांतिपूर्वक संपन्न हो गई। आज लगभग 16 लाख 51 हजार 812 परीक्षार्थी रीट परीक्षा में शामिल होंगे। हालांकि इस दौरान कई परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षार्थियों के कुछ देरी से पहुंचने एवं कई अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्र ढूूंढने में दिक्कत का सामना करना पड़ा लेकिन सरकार की तरफ से अभ्यर्थियों के आने जाने की सरकारी एवं निजी बसों में नि:शुल्क व्यवस्था के कारण उन्हें इस सुविधा की काफी मदद मिली और अधिकांश अभ्यर्थी समय से पहले ही अपने केन्द्र पर पहुंच गये। दो पारियों में हो रही इस परीक्षा की पहली पारी सुबह दस बजे शुरु शुरू हुई जो दोपहर साढ़े बारह बजे तक चली।

PunjabKesari
कई जिलों में मोबाइल इंटरनेट बंद
परीक्षा केन्द्रों पर पुलिस बल तैनात किया गया और अभ्यर्थियों के केन्द्र में प्रवेश से पहले वैश्विक महामारी कोरोना गाइडलाइन के तहत उनके तापमान की जांच की गई तथा केन्द्र में नये मास्क देकर ही प्रवेश दिया गया। इस दौरान सभी अभ्यर्थियों पर गहरी नजर बनाये रखी ताकि कोई नकल सामग्री लेकर अंदर नहीं जा सके। परीक्षा में नकल रोकने के लिए अधिकांश परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं इनमें संवेदनशली बाड़मेर, सवाईमाधोपुर, करौली, दौसा, नागौर, सीकर, भरतपुर, झुंझुनूं, और जालौर के परीक्षा केंद्रों पर कड़ी नजर रखी हुई हैं। इसके जयपुर सहित कई जिलों में सुबह करीब सात से सायं पांच बजे तक मोबाइल इंटरनेट बंद कर दिया गया है।      

PunjabKesari
अजमेर के परीक्षा केंद्र पर नकल के प्रयास
मिली जानकारी के अनुसार अजमेर के किशनगढ़ में एक परीक्षा केन्द्र पर एक अभ्यर्थी को नकल करने के प्रयास करने पर हिरासत में लिए जाने की खबर हैं। बताया जा रहा है अभ्यर्थी चप्पल में डिवाइस एवं ब्लूटूथ लगाकर केन्द्र में प्रवेश करने पर जांच में पकड़ा गया हैं। राज्य सरकार की तरफ से परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए रोडवेज बस के अलावा निजी बसों को भी अधिग्रहण करके हजारों बसों का संचालन किया गया और शहर में एक साथ भीड़ होने से बचाने के लिए जिलों में अस्थाई बस स्टैंड की व्यवस्था की गई।

PunjabKesari
16 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के शामिल होने की संभावना
जयपुर में अभ्यर्थियों के लिए रविवार को भी मेट्रो और लो फ्लोर बसों में नि:शुल्क यात्रा की व्यवस्था की गई। इस दौरान अभ्यर्थी और उनके अभिभावकों के लिए प्रदेश में लगभग साढ़े तीन सौ इंदिरा रसोई पर मुफ्त भोजन की व्यवस्था की गई। शिक्षकों की तीस हजार से अधिक पदों के लिए आयोजित रीट के लिए 25 लाख 35 हजार 542 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया जिसमें करीब नौ लाख अभ्यर्थी दोनों पारियों में परीक्षा देंगे। दोनों पारियों के 16 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के शामिल होने की संभावना है। परीक्षा के लिए प्रदेश में लगभग चार हजार परीक्षा केंद्र बनाए गए।

सरकार की तैयारियां

  • उम्मीदवारों को पर्याप्य संख्या में निजी बसों से नि:शुल्क यात्रा करने की छूट।

  • नकल, पेपर लीक या परीक्षा से जुड़ी किसी भी गैर-कानूनी गतिविधि में शामिल कर्मचारी होंगी बर्खास्त. साथ ही, संस्थान की मान्यता हमेशा के लिए रद्द होगी।
  • परीक्षा केंद्रों पर होंगे CCTV कैमरे।
  • रीट क्वेश्चन पेपर को प्रिंटिंग प्रेस से परीक्षार्थी तक पहुंचने तक प्रक्रिया में शामिल कोई भी अधिकारी या कर्मचारी मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करेगा. साथ ही, इस प्रक्रिया की वीडियोग्राफी होगी।
  • उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्रों पर मास्क उपलब्ध कराये जाएंगे. परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र के भीतर अपना मास्क नहीं ले जा सकेंगे।
  • पेपर को लेकर गैर कानूनी गतिविधियों में शामिल होने वाले संदिग्धों पर इंटेलीजेंस द्वारा कड़ी नजर रखी जा रही है. जरूरत होने पर उन्हें हिरासत में भी लिया जा सकेगा।
  • अभ्यर्थियों को आवागमन में असुविधा ना हो इसलिए बड़े शहरों में अस्थाई बस स्टैंड बनाए जाएंगे।
  • ट्रैफिक और कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस जाब्ता तैयार किया जाएगा।
  • महिला, दिव्यांग एवं जरूरतमंद अभ्यर्थियों की संवेदनशीलता के साथ मदद करने के लिए प्रशासन को निर्देशित किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Recommended News