दिल्ली: महिला अधिकारी ने सौरभ भारद्वाज पर ‘पीड़ाजनक व्यवहार’ का लगाया आरोप, आप का इनकार

punjabkesari.in Saturday, May 27, 2023 - 11:48 AM (IST)

नयी दिल्ली, 26 मई (भाषा) वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और दिल्ली सरकार में विशेष सचिव किन्नी सिंह ने सेवा मामलों के मंत्री सौरभ भारद्वाज पर “पीड़ाजनक व्यवहार” का आरोप लगाया और खुद के लिए सुरक्षा का अनुरोध किया।


सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) ने सिंह के आरोपों को “पूरी तरह से गलत” करार दिया और दावा किया कि अधिकारियों को उनकी सरकार के मंत्रियों के खिलाफ शिकायत करने के लिए “मजबूर” किया जा रहा है।


सिंह ने कहा कि जब तक कि “पर्याप्त सुरक्षा उपाय और उचित आचरण” सुनिश्चित नहीं किया जाता, उनके लिए सेवा मंत्री के साथ किसी भी “व्यक्तिगत बैठक” में भाग लेना “मुश्किल” होगा।


अधिकारी, विशेष सचिव द्वितीय (सेवाएं), ने 16 मई को मुख्य सचिव, गृह मंत्रालय और उपराज्यपाल कार्यालय को सौंपी गई एक घटना रिपोर्ट में भारद्वाज और सेवा विभाग के अन्य अधिकारियों के साथ बैठक के बाद शिकायत की।


सिंह ने कहा कि वह अन्य अधिकारियों के साथ 16 मई को अपनी ड्यूटी करने के लिए भारद्वाज से मिलने गई थीं।


उन्होंने अपनी रिपोर्ट में उल्लेख किया, “...मुझे भरोसा नहीं है कि व्यक्तिगत बैठक के लिए बुलाए जाने पर मेरी सुरक्षा और सम्मान सुनिश्चित किया जाएगा। इसलिए, यह सूचित किया जाता है कि मेरे लिए मंत्री सौरभ भारद्वाज के साथ किसी भी व्यक्तिगत बैठक में शामिल होना मुश्किल होगा, जब तक कि पर्याप्त सुरक्षा उपाय और उचित आचरण सुनिश्चित न किया जाए।”

सिंह ने मंत्री के “अप्रत्याशित पीड़ाजनक व्यवहार” को देखते हुए “पर्याप्त सुरक्षा” का अनुरोध किया है।


आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया कि अधिकारी द्वारा शिकायत भाजपा की “सस्ती राजनीति” थी और सवाल किया कि क्या ऐसा कुछ पहले भी सुना गया था।


पार्टी ने एक बयान में कहा, “भारद्वाज बहुत ही भद्र व्यक्ति हैं। वह अपने विरोधियों के साथ भी काफी विनम्र हैं। जाहिर है कि अधिकारी भाजपा के दबाव में ऐसी शिकायतें कर रही हैं। जिस दिन सेवाएं हमारे अधीन आ गईं, उन्हीं अधिकारियों से मुख्य सचिव, एलजी और भाजपा नेताओं के खिलाफ शिकायत करवाई जा सकती है, लेकिन हम ऐसी ओछी राजनीति नहीं करेंगे।”

हालांकि, सिंह ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि सेवा सचिव आशीष मोरे और उप सचिव अमिताभ जोशी सहित अधिकारी, मंत्री के व्यवहार से “पूरी तरह से भयभीत” थे, जो फाइलों के बारे में पूछताछ कर रहे थे और उन पर एक कागज पर हस्ताक्षर करने का दबाव बना रहे थे।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News