आरएसएस की तीन दिवसीय अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक राजस्थान के झुंझुनू में शुरू

punjabkesari.in Thursday, Jul 07, 2022 - 11:17 AM (IST)

नयी दिल्ली, सात जुलाई (भाषा) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की तीन दिवसीय बैठक बृहस्पतिवार को राजस्थान के झुंझुनू में शुरू हुई। इसमें संगठन के विस्तार, संघ के शताब्दी वर्ष से जुड़े कार्यों तथा आगामी वर्ष की कार्य योजना पर चर्चा होगी ।

संघ के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने ‘भाषा’ को बताया कि हर साल होने वाली संघ की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक राजस्थान के झुंझुनू के खेमी शक्ति मंदिर परिसर में शुरू हुई। यह बैठक सात से नौ जुलाई तक चलेगी।

इससे पहले, संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने अपने बयान में कहा कि यह बैठक संगठन संबंधी विषयों पर केंद्रित होती है, बैठक में प्रांत प्रचारक अपने-अपने कार्य क्षेत्रों की वास्तविक स्थिति की जानकारियां और अनुभव साझा करेंगे।


उन्होंने कहा कि इसमें संपूर्ण भारत वर्ष में संघ द्वारा आयोजित प्रथम, द्वितीय, तृतीय वर्ष संघ शिक्षा वर्ग के आंकड़ों का संकलन, नये प्रयोग एवं उनका विश्लेषण किया जाएगा। इस बैठक में आगामी वर्ष की कार्य योजना एवं प्रवास योजना आदि पर भी चर्चा होगी।


आंबेकर ने कहा कि बैठक में वर्ष 2025 में संघ के शताब्दी वर्ष को लेकर होने वाले कार्यों पर चर्चा होगी । इसमें संगठन सुदृढ़ीकरण और समाज सहभागिता सहित वार्षिक योजना की समीक्षा की जायेगी ।


संघ की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक में देशभर के सभी 45 प्रांतों के प्रांत प्रचारक व सह प्रांत प्रचारक शामिल हो रहे हैं। इसमें संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत, सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले सहित सह सरकार्यवाह कृष्ण गोपाल, सी आर मुकुंद, अरुण कुमार और रामदत्त शामिल हो रहे हैं ।


बैठक में संघ के अन्य विभागों के प्रमुख, अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य सहित अन्य संगठनों के वरिष्ठ प्रचारक हिस्सा ले रहे हैं। इसमें शामिल होने वाले संघ के सहयोगी संगठनों में वनवासी कल्याण आश्रम, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, भारतीय मजदूर संघ, भारतीय किसान संघ, विद्या मंदिर, विश्व हिंदू परिषद आदि शामिल है।


अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक में भाजपा से संगठन महामंत्री बी एल संतोष भी शामिल हो रहे हैं।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News