अगरतला में कांग्रेस नेताओं पर हमला करने वालों को न्याय के कठघरे में लाया जाए: राहुल गांधी

punjabkesari.in Sunday, Jun 26, 2022 - 10:28 PM (IST)

नयी दिल्ली, 26 जून (भाषा) कांग्रेस ने रविवार को आरोप लगाया कि अगरतला उपचुनाव में पार्टी की जीत के बाद उसके नेताओं और कार्यकर्ताओं पर ‘भाजपा के गुंडों’ ने हमला किया। कांग्रेस ने मांग की है कि दोषियों को न्याय के कठघरे में लाया जाना चाहिए और भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।

कांग्रेस ने यह भी कहा कि अगर त्रिपुरा सरकार कानून और व्यवस्था को संभालने में असमर्थ है, तो राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना ‘‘जरूरी’’ होगा। विपक्षी दल ने कहा कि अधीर रंजन चौधरी, गौरव गोगोई और नासिर हुसैन का तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल स्थिति का जायजा लेने और इस ‘‘जघन्य हमले’’ पर रिपोर्ट तैयार करने के लिए सोमवार को त्रिपुरा का दौरा करेगा।

राज्य की चार विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे आने के बाद अगरतला में कांग्रेस भवन के सामने कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के समर्थकों के बीच हुई झड़प में त्रिपुरा प्रदेश कांग्रेस प्रमुख बिरजीत सिन्हा समेत कम से कम 19 लोग घायल हो गए। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े।

उपचुनाव में भाजपा को तीन और कांग्रेस को एक सीट मिली है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘अगरतला उपचुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद भाजपा के गुंडों द्वारा हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं पर किए गए हमले की मैं कड़ी निंदा करता हूं।’’
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, ‘‘लोग हमारे साथ हैं। शर्मनाक है कि पुलिस हमले को रोकने के बजाय मूकदर्शक बनी रही। भाजपा के इन गुंडों को न्याय के कठघरे में लाया जाना चाहिए।’’
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘कांग्रेस के करोड़ों कार्यकर्ता व नेता त्रिपुरा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं व नेताओं के साथ चट्टान की तरह खड़े होकर भाजपा की हिंसा का सामना करेंगे। भाजपा चाहे जितना भी हिंसक हथकंडे अपनाए, लोकतंत्र के मैदान में इन हिंसक हथकंडों की हार निश्चित है।

कांग्रेस के महासचिव (संगठन) के सी वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा कि पार्टी अगरतला उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार सुदीप रॉय बर्मन की जीत के बाद कांग्रेस भवन पर ‘‘हमले’’ और ‘‘भाजपा के गुंडों’’ द्वारा त्रिपुरा पीसीसी अध्यक्ष पर क्रूर हमले की कड़ी निंदा करती है।

वेणुगोपाल ने कहा, ‘‘प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रमुख को चोटें आईं और हमले के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा से माफी और (केंद्रीय) गृह मंत्री अमित शाह से जांच कराने की मांग करते हैं कि ये हमले क्यों हुए। यदि राज्य सरकार कानून-व्यवस्था को संभालने में असमर्थ है, तो राष्ट्रपति शासन लगाना जरूरी होगा।’’
कांग्रेस ने अधिकारियों से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने और पार्टी के कार्यालयों और पदाधिकारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आग्रह किया। गुवाहाटी से एक वीडियो संदेश में कांग्रेस के त्रिपुरा प्रभारी अजय कुमार ने भी आरोप लगाया कि अगरतला में कांग्रेस कार्यालय पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने हमला किया।

कुमार ने कहा, ‘‘कांग्रेस भवन पुलिस थाने के ठीक बगल में है। इसके बावजूद भाजपा के गुंडों ने चाकुओं से हमला किया और पथराव किया। आप अंदाज लगा सकते हैं कि त्रिपुरा में किस तरह की कानून-व्यवस्था है।"
कुमार ने कहा, ‘‘देश के लोगों को देखना चाहिए कि त्रिपुरा में भाजपा द्वारा राजनीतिक विरोधियों पर कैसे हमला किया जा रहा है। वहां की भाजपा सरकार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह इस पर चुप हैं।"
प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी आशीष कुमार साहा ने कहा कि अगरतला उपचुनाव जीतने वाले उम्मीदवार सुदीप रॉय बर्मन के साथ पार्टी के उत्साही समर्थक मतगणना हॉल से अपराह्न करीब एक बजे कांग्रेस भवन लौट आए थे।

उन्होंने कहा, ‘‘जब वे दोपहर के भोजन की तैयारी कर रहे थे, तभी भाजपा समर्थकों के एक समूह ने कांग्रेस भवन पर हमला बोल दिया। त्रिपुरा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष को सिर पर ईंट मारी गई, जबकि रोमी मिया नामक कांग्रेस कार्यकर्ता को भाजपा समर्थकों ने चाकू मार दिया।’’


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News