दिल्ली के मुख्य सचिव ने गाजीपुर ‘लैंडफिल’ व कचरे से ऊर्जा बनाने वाले संयंत्र का दौरा किया

punjabkesari.in Saturday, May 21, 2022 - 10:25 PM (IST)

नयी दिल्ली, 21 मई (भाषा) दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार ने शनिवार को गाजीपुर ‘लैंडफिल’ और कचरे से ऊर्जा बनाने वाले संयंत्र (डब्ल्यूटीई) का दौरा किया और अधिकारियों को जैव-खनन बढ़ाने तथा पुराने कचरे के निपटारे का निर्देश दिया।
एक आधिकारिक बयान के अनुसार, मुख्य सचिव के साथ नगर निगम के विशेष अधिकारी अश्विनी कुमार और आयुक्त ज्ञानेश भारती भी थे।
इस दौरान, नरेश कुमार को स्थल निगरानी तंत्र, आग की घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए उठाए जा रहे कदमों और जून के अंत तक प्रतिदिन 4,000 मीट्रिक टन से 9,000 मीट्रिक टन तक पुराने कचरे के जैव-खनन की प्रक्रिया के बारे में अवगत कराया गया।

बयान में कहा गया है, "मुख्य सचिव ने सभी अधिकारियों को जैव-खनन की प्रक्रिया और इसके निपटान को बढ़ाने का निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों को कार्य योजना का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया और मैसर्स ईस्ट दिल्ली वेस्ट प्रोसेसिंग प्राइवेट लिमिटेड को डब्ल्यूटीई संयंत्र को जल्द से जल्द चालू करने का निर्देश दिया।’’
बयान में कहा गया है कि अब तक लगभग 10.25 लाख मीट्रिक टन पुराने कचरे को संसाधित किया जा चुका है।
बयान में कहा गया है कि सचिव को यह भी अवगत कराया गया कि विभाग ने दिसंबर 2024 तक ‘लैंडफिल’ को साफ करने के लिए एक कार्ययोजना तैयार की है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News