भीषण लू को देखते हुए स्कूलों में गर्मी की छुट्टी घोषित की जाए, दिल्ली पैरेंट्स एसोसिएशन की मांग

punjabkesari.in Monday, May 16, 2022 - 10:28 PM (IST)

नयी दिल्ली, 16 मई (भाषा) दिल्ली पैरेंट्स एसोसिएशन (डीपीए) ने सोमवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) और राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) को पत्र लिखकर मांग की कि भीषण गर्मी को देखते हुए शहर के स्कूलों में तुरंत गर्मी की छुट्टी घोषित की जाए।

उत्तर पश्चिमी दिल्ली के मुंगेशपुर में पारा 49.2 डिग्री सेल्सियस और शहर के दक्षिण-पश्चिम हिस्से के नजफगढ़ में 49.1 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के साथ राष्ट्रीय राजधानी और उसके आसपास के इलाकों में रविवार को भीषण लू चली।


अधिकतम तापमान स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 48.4 डिग्री सेल्सियस, जाफरपुर में 47.5 डिग्री सेल्सियस, पीतमपुरा में 47.3 डिग्री सेल्सियस और रिज में 47.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।


डीपीए अध्यक्ष अपराजिता गौतम ने पत्र में लिखा, “हम आपसे अपील करते हैं कि दिल्ली में भीषण गर्मी के मद्देनजर बिना देर किए स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां तुरंत घोषित करें। भीषण गर्मी के कारण कई बच्चे बीमार पड़ रहे हैं और स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति कम हो रही है।”

इसमें कहा गया, “दिल्ली में 72 साल बाद इतनी गर्मी पड़ रही है। कल 15 मई 2022 को दिल्ली के कई इलाकों में तापमान लगभग 50 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से जहां बच्चों की सुरक्षा के लिए कुछ बचाव नियम और सुझाव भी जारी किए गए थे वहीं पड़ोसी राज्यों में भी स्कूलों के समय में बदलाव किया गया है।”

उन्होंने कहा, “दिल्ली सरकार द्वारा लेकिन ऐसा कोई कदम नहीं उठाया गया। केंद्र सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देश में यह स्पष्ट किया गया है कि बच्चों के लिये दोपहर 12 बजे से अपराहन तीन बजे तक बाहर निकलना सुरक्षित नहीं है।”

गौतम ने कहा कि गर्मियों की छुट्टी का मुख्य उद्देश्य बच्चों को लू के प्रकोप से बचाना था।

उन्होंने कहा, “हम कई दिनों से देख रहे हैं कि लगातार बढ़ती गर्मी के कारण बच्चे बीमार हो रहे हैं और स्कूलों में उपस्थिति दर लगातार गिर रही है। इसलिए, इस दृष्टि से स्कूलों को बिना देरी किए तुरंत बंद कर दिया जाना चाहिए और छुट्टियों की घोषणा की जानी चाहिए।”

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News