किसानों के मुद्दों पर लोकसभा में जारी रही टीआरएस सदस्यों की नारेबाजी

punjabkesari.in Thursday, Dec 02, 2021 - 03:37 PM (IST)

नयी दिल्ली, दो दिसंबर (भाषा) तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सदस्यों ने किसानों के मुद्दों पर पिछले कुछ दिनों की तरह बृहस्पतिवार को भी लोकसभा में आसन के निकट पहुंचकर नारेबाजी जारी रखी।

टीआरएस सदस्यों की नारेबाजी के बीच ही प्रश्नकाल चला और कार्यवाही स्थगित नहीं हुई। गत सोमवार से आरंभ हुए शीतकालीन सत्र में आज पहला दिन रहा है जब प्रश्नकाल पूरा हुआ। प्रश्नकाल में जलशक्ति, नागर विमानन, सड़क परिवहन और अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालयों से जुड़े पूरक प्रश्न पूछे गए।

प्रश्नकाल आरंभ होने के साथ ही टीआरएस के सदस्य नारेबाजी करते हुए आसन के निकट पहुंच गए। उन्होंने हाथों में तख्तियां भी ले रखी थीं।

टीआरएस के सदस्य तेलंगाना में धान की खरीद करने, किसान आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों के लिए मुआवजे की मांग और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी देने की मांग से जुड़े मुद्दे उठाना चाहते थे।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने सवाल किया कि सरकार टीआरएस के सदस्यों को क्यों नहीं सुन रही है?
इस दौरान कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर सदन में मौजूद थे।

टीआरएस के नेता नमा नागेश्वर राव ने कहा कि तेलंगाना धान पैदा करने वाले अग्रणी राज्यों में शामिल है, लेकिन केंद्र सरकार धान की खरीद नहीं कर रही है।

इसके बाद टीआरएस सदस्य सदन से बाहर चले गए। सदन से बाहर जाते समय उन्होंने तख्तियों फाड़ दीं और उनके टुकड़े आसन के निकट फेंक दिए।

‘स्मार्ट सिटी’ और हज की उड़ानों के विषयों को लेकर द्रमुक के सदस्यों ने भी सदन में थोड़ी देर नारेबाजी की।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News