आप ने दलित परिवार के चार सदस्यों की हत्या को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार की आलोचना की

punjabkesari.in Saturday, Nov 27, 2021 - 07:28 PM (IST)

नयी दिल्ली, 27 नवंबर (भाषा) आम आदमी पार्टी (आप) ने प्रयागराज में हाल में एक दलित परिवार के चार सदस्यों की हत्या को लेकर शनिवार को उत्तर प्रदेश सरकार की आलोचना की और मामले की त्वरित सुनवाई और दोषियों को मौत की सजा देने की मांग की।

आप सांसद संजय सिंह ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की कि उनकी पार्टी पीड़ितों के लिए न्याय की मांग को लेकर रविवार को उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में विरोध प्रदर्शन करेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि यह भयावह घटना, जिसमें परिवार की एक नाबालिग लड़की के साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया गया और उसकी हत्या कर दी गई, वह योगी आदित्यनाथ प्रशासन की ‘‘लापरवाही और राज्य में पुलिस-अपराधियों की सांठगांठ’’ का परिणाम थी।

प्रयागराज जिले के फाफामऊ थाना क्षेत्र के एक गांव में बुधवार रात एक दलित परिवार के चार सदस्यों की बेरहमी से हत्या कर दी गयी थी। जिस समय यह घटना हुई उस समय परिवार का मुखिया लगभग 50 वर्षीय व्यक्ति, उसकी 45 वर्षीय पत्नी, 16 वर्षीय बेटी और 10 वर्षीय पुत्र घर में सो रहे थे।

सिंह ने कहा, ‘‘यह हाथरस मामले से भी बड़ी घटना है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य में गरीबों और वंचित वर्गों के खिलाफ गुंडागर्दी और बर्बरता किये जाने की खुली छूट मिली हुई है।’’ उन्होंने दावा किया कि सितंबर में पीड़ितों को आरोपियों ने पीटा था, हालांकि, स्थानीय लोगों और मीडिया के दबाव के बाद पुलिस ने एक हफ्ते बाद ही प्राथमिकी दर्ज की।

सिंह ने दावा किया, ‘‘पिटाई के बाद से परिवार इंसाफ की गुहार लगा रहा था लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और आखिरकार उनकी बेरहमी से हत्या कर दी गई।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम मांग करते हैं कि छह महीने में त्वरित अदालत (फास्ट ट्रैक कोर्ट) में सुनवाई पूरी हो और दोषियों को मौत की सजा दी जाए।’’
सिंह ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर मामले में हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News