जेएनयू प्रशासन ने छात्र संघ, एबीवीपी सदस्यों के बीच हिंसा की निंदा की

punjabkesari.in Saturday, Nov 20, 2021 - 02:12 PM (IST)

नयी दिल्ली, 15 नवंबर (भाषा) जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) प्रशासन ने सोमवार को विश्वविद्यालय परिसर में हिंसा का कोई स्थान नहीं होने का जिक्र करते हुए छात्र संघ और एबीवीपी सदस्यों के बीच हुई झड़प की निंदा की और कहा कि छात्रसंघ सभागार की सुविधा सभी छात्रों के लिए है।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से संबद्ध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) के सदस्यों के बीच यहां जेएनयू परिसर में छात्रसंघ सभागार में एक कार्यक्रम के आयोजन को लेकर विवाद हो गया था। पुलिस ने सोमवार को बताया कि एबीवीपी और जेएनयूएसयू ने रविवार रात एक-दूसरे के सदस्यों पर हमला करने और अन्य विद्यार्थियों को घायल करने का आरोप लगाया है।
जेएनयू की ओर से जारी बयान में कहा गया, '''' जेएनयू प्रशासन के संज्ञान में आया है कि पिछली रात छात्रसंघ सभागार में छात्रों के दो समूहों के बीच मारपीट हो गई। छात्रों को इस बात की जानकारी है कि जेएनयू परिसर स्थित ये स्थान एक आम सुविधा है जोकि बिना किसी भेदभाव के सभी छात्रों के लिए उपलब्ध है और प्रत्येक छात्र विश्वविद्यालय के तय नियमों का पालन करते हुए इसका उपयोग करने के लिए पात्र है।''''
मुख्य प्रॉक्टर द्वारा जारी बयान में कहा गया, '''' जेएनयू प्रशासन परिसर में किसी भी तरह की हिंसा और अनुशासनहीनता के आचरण की कड़ी निंदा करता है। छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे परिसर में उपलब्ध आम सुविधाओं का पूरी जिम्मेदारी और सद्भाव के साथ उपयोग करें। किसी को भी शांति भंग करने और अन्य की गतिविधियों में बाधा डालने की अनुमति नहीं दी जाएगी।''''


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News