सरकार ने राष्ट्रव्यापी कोविड-19 रोकथाम दिशानिर्देशों को 30 नवंबर तक बढ़ाया

10/28/2021 6:03:50 PM

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) केंद्र ने बृहस्पतिवार को राष्ट्रव्यापी कोविड-19 रोकथाम उपायों को 30 नवंबर तक बढ़ा दिया।

कुछ राज्यों में वायरस का स्थानीय प्रसार हुआ है और यह बीमारी देश में एक सार्वजनिक स्वास्थ्य चुनौती बनी हुई है जिसके मद्देनजर कोविड प्रोटोकॉल को अभी जारी रखने का फैसला लिया गया है।

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को भेजे पत्र में कहा कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए मौजूदा प्रोटोकॉल 30 नवंबर तक जारी रहेंगे।

उन्होंने पिछले महीने कहा था कि ऐसी आशंका है कि कोविड-उपयुक्त व्यवहार का कड़ाई से पालन नहीं किया जाये, खासकर त्योहारों के दौरान और इसलिए दिशानिर्देशों को लागू करना महत्वपूर्ण है । भल्ला ने कहा था कि देश में दैनिक मामलों और कुल मरीजों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है, लेकिन कुछ राज्यों में वायरस का स्थानीय प्रसार हुआ है और देश में कोविड-19 एक सार्वजनिक स्वास्थ्य चुनौती बनी हुई है।

गृह सचिव ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नियमित रूप से अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले हर जिले के मामले की सकारात्मकता, अस्पताल, आईसीयू में भर्ती मरीजों की संख्या की बारीकी से निगरानी करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन को अपने टीकाकरण कार्यक्रमों को जारी रखना चाहिए ताकि पात्र आयु समूहों के टीकाकरण में तेजी लाई जा सके और पात्र लाभार्थियों को दूसरी खुराक देने के वास्ते प्राथमिकता पर रखा जा सके।

गृह सचिव ने मुख्य सचिवों से जिले और अन्य सभी संबंधित स्थानीय अधिकारियों को निर्देश जारी करने का आग्रह किया कि वे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की सलाह के अनुसार आवश्यक उपाय करें ताकि कोविड​​-19 के त्वरित और प्रभावी प्रबंधन के लिए सलाह दी जा सके।

भारत में एक दिन में कोविड-19 के 16,156 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,42,31,809 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 1,60,989 हो गई है, जो पिछले 243 दिन में सबसे कम है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बृहस्पतिवार की सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 733 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,56,386 हो गई। केरल ने संक्रमण से मौत के आंकड़ों का पुन:मिलान करने के बाद मृतक संख्या में 622 का इजाफा किया है, जिनमें से पिछले 24 घंटे में संक्रमण से राज्य में 93 लोगों की मौत हुई।

केरल सरकार की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि इन 622 मामलों में से संक्रमण से मौत के ऐसे 330 मामले हैं, जिनकी पुष्टि पिछले साल 18 जून तक पर्याप्त दस्तावेज की कमी के कारण नहीं हो पाई थी। वहीं, मौत के 199 मामलों को केन्द्र तथा उच्चतम न्यायालय के नए दिशानिर्देशों के आधार पर कोविड-19 से मौत के मामलों में जोड़ा गया है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News