दिल्ली में मुठभेड़ के बाद लूट के कई मामलों में शामिल दो आरोपी गिरफ्तार

10/19/2021 6:52:18 PM

नयी दिल्ली, 19 अक्टूबर (भाषा) राष्ट्रीय राजधानी में एक रात में लूट की कई वारदातों को अंजाम देने वाले आरोपियों को पुलिस ने द्वारका इलाके में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
उन्होंने बताया कि छापेमारी के दौरान आरोपियों के एक सहयोगी को भी गिरफ्तार किया गया।

अधिकारियों ने बताया कि आरोपी की पहचान सचिन (21) और बबलू (20) के रूप में हुई । ये दोनों मंगोलपुरी के रहने वाले हैं। वहीं उनके सहयोगी की पहचान विशाल (21) के रूप में हुई, जो पहले दिल्ली सिविल डिफेंस (डीसीडी) में काम करता था और सुल्तानपुरी का रहने वाला है।
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि 11 और 12 अक्टूबर की दरमियानी रात को हथियारबंद लूट की चार घटनाएं द्वारका में हुई। पहली घटना द्वारका सेक्टर के महादेव अपार्टमेंट्स के समीप रात करीब 12 बजकर 30 मिनट के आसपास हुई। पीड़ित ने शिकायत में बताया कि सैंट्रो से यात्रा कर रहे तीन लोगों ने उसे रोका और लूट को अंजाम दिया। वहीं दूसरी घटना में वेलकम होटल के निकट तीन से चार लोगों ने पीड़ित से मोबाइल फोन लूट लिया। तीसरी घटना रात के करीब एक बजकर 15 मिनट पर सेक्टर-9 में आईटीएल स्कूल के समीप हुई और एक व्यक्ति से उसका मोबाइल फोन लुटेरों ने छीन लिया।
वहीं चौथी घटना वेगल मॉल के निकट करीब दो बजकर 35 मिनट पर हुई और शगुन नाम के व्यक्ति से लूटरों ने कथित तौर पर मोबाइल फोन छीन लिया।

पुलिस ने जानकारी मिलने के बाद 200 से अधिक सीसीटीवी कैमरों को खंगाला और 100 से ज्यादा लोगों की जांच की।

इसके बाद पुलिस को आरोपियों के द्वारका आने के संबंध में जानकारी मिली। जाल बिछाकर पुलिस ने द्वारका सेक्टर-10 में रामलीला मैदान के समीप आरोपियों की कार रोकी। कार से दो लोग बाहर निकले और भागने की कोशिश की।
द्वारका के पुलिस उपायुक्त शंकर चौधरी ने बताया कि आरोपी ने पुलिसकर्मी पर गोली चलाई, जिसके बाद कर्मियों ने आत्मरक्षा के लिए तीन गोली चलाई। दोनों ही संदिग्धों को पैरों में गोली लगी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद सुल्तानपुरी में छापा मारकर विशाल को गिरफ्तार कर लिया गया।
उन्होंने बताया कि आरोपी के पास से दो पिस्तौल, लूट में शामिल एक चोरी की कार और चोरी के चार मोबाइल फोन बरामद हुए।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News