अगस्त-सितंबर में हो सकती है सामान्य से अधिक वर्षा, मध्य प्रदेश में बेहद भारी बारिश की संभावना

2021-08-03T00:12:40.897

नयी दिल्ली, दो अगस्त (भाषा) भारत के उत्तरी भागों के मैदानी इलाकों और मध्य प्रदेश में सोमवार को हल्की और मध्यम बारिश हुई तथा इसके साथ ही भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी)ने अगस्त-सितंबर के दौरान सामान्य से अधिक वर्षा होने का पूर्वानुमान जताया है।

भारी बारिश से बेहाल मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले के बाढ़ प्रभावित कुछ गांवों से सेना के हेलीकॉप्टरों ने लोगों को बचाया। राज्य के श्योपुर जिले में बाढ़ के कारण जलमग्न हुई इमारत से 60 लोगों को बचाया गया।
इस बीच, राजस्थान में पिछले एक सप्ताह में 33 में से 14 जिलों में सामान्य बारिश हुई और 10 जिलों में भारी बारिश हुई। उत्तर प्रदेश में कई जगहों पर आंधी के साथ मध्यम से भारी बारिश हुई।
आईएमडी ने मॉनसून के दूसरे हिस्से के पूर्वानुमान में कहा कि पश्चिमी मध्य प्रदेश और राजस्थान के इलाकों, अंदरूनी महाराष्ट्र्र के कुछ क्षेत्रों, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में अगस्त में सामान्य से कम बारिश होने की संभावना है।

इसके साथ ही कर्नाटक, तमिलनाडु, तेलंगाना, रायलसीमा, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र, दक्षिण गुजरात, पूर्वोत्तर राज्यों और बिहार में अगस्त में सामान्य से अधिक वर्षा हो सकती है। दिल्ली में अगस्त के दौरान सामान्य बारिश होने की संभावना है।

पिछले सोमवार तक राजस्थान वर्षा के अभाव वाले क्षेत्र में शामिल था लेकिन पिछले कुछ दिन में वहां बेहद भारी बारिश हुई है। आईएमडी के अनुसार, पिछले 24 घंटे में पूर्वी राजस्थान के लगभग सभी क्षेत्रों और राज्य के पश्चिमी क्षेत्र में हल्की से मध्यम बारिश हुई।

मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में पूर्वी राजस्थान के कुछ जिलों में बेहद भारी बारिश होने का अनुमान जताया है। उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में मंगलवार को बारिश और बिजली कड़कने की आशंका है।

मध्य प्रदेश में मौसम विभाग ने 25 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोक नगर, दतिया, शेओपुर, मोरेना और भिंड में रेड अलर्ट जारी किया गया है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News