विपक्षी सदस्यों के कागज फेंकने की घटना से काफी पीड़ा हुई : लोकसभा अध्यक्ष बिरला

2021-07-29T16:16:05.527

नयी दिल्ली, 29 जुलाई (भाषा) लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन में बुधवार को विपक्षी सदस्यों द्वारा कागज फेंके जाने की घटना को लेकर अपनी पीड़ा व्यक्त की और सदस्यों को चेतावनी दी कि अगर भविष्य में संसद की गरिमा के प्रतिकूल घटनाओं की पुनरावृत्ति की गई तो वह कार्रवाई करेंगे।

बुधवार को सदन में पेगासस जासूसी मामले पर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेस के गुरजीत औजला, टी एन प्रतापन और हिबी इडेन सहित कुछ विपक्षी सदस्यों ने लोकसभा सचिवालय के अधिकारियों की मेज पर रखे कुछ कागज आसन और सत्तापक्ष की तरफ उछाल दिये थे।
बृहस्पतिवार सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होने पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इस घटना पर दु:ख जताते हुए कहा कि 28 जुलाई को सदन में घटी घटना से उन्हें अत्यंत पीड़ा हुई है। उन्होंने कहा कि आसन की ओर पर्चे और कागज फेंकना हमारी संसदीय परंपराओं के अनुरूप नहीं है।
बिरला ने कहा, ‘‘हम संसद की गरिमा का ध्यान नहीं रखेंगे तब संसदीय लोकतंत्र कैसे बचेगा।’’
उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहता है कि सदस्यों को बात रखने का पर्याप्त समय और अवसर दें तथा उनका सम्मान हो। लोकसभा अध्यक्ष ने सदस्यों से पूछा, ‘‘क्या आप कल की घटना को संसद की गरिमा के अनुरूप मानते हैं, क्या आप इसे न्यायोचित मानते हैं?’’
उन्होंने कहा कि अगर आसन से जुड़ा कोई प्रश्न हो तो ‘‘हमारे कक्ष में आकर बात रख सकते हैं’’।
बिरला ने कहा, ‘‘संसद की गरिमा को बनाये रखना हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है क्योंकि आप (सांसद) एक व्यक्ति नहीं बल्कि एक संस्था हैं और लाखों लोगों का प्रतिनिधित्व करते हैं।’’
उन्होंने कहा कि आसन के प्रति कल कुछ सदस्यों का आचरण अनुचित था। सदस्य अपने आचरण एवं मर्यादाओं का ध्यान रखें।

बिरला ने कहा कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए और ‘‘अगर ऐसी घटनाएं दोहरायी जाती हैं, तब मुझे आपके सहयोग की जरूरत होगी और मैं ऐसे सदस्यों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करूंगा’’।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News