ममता ने की गडकरी से मुलाकात, पश्चिम बंगाल में इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग पर हुई चर्चा

2021-07-29T23:58:40.5

नयी दिल्ली, 29 जुलाई (भाषा) राष्ट्रीय राजधानी में अपने दौरे के चौथे दिन पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, द्रमुक नेता कनिमोझी और गीतकार जावेद अख्तर से मुलाकात की।
अख्तर से मुलाकात के दौरान बनर्जी ने अपने चुनावी नारे “खेला होबे” पर उनसे एक गीत लिखने का आग्रह किया। दोपहर में गडकरी से हुई मुलाकात में बनर्जी ने वैश्विक निवेशकों को आमंत्रित करने की कोशिश के तहत राज्य की अवसंरचनात्मक परियोजनाओं पर चर्चा की।
उन्होंने केंद्रीय मंत्री से कहा कि अच्छा होगा अगर पश्चिम बंगाल में इलेक्ट्रिक वाहन उत्पादन उद्योग स्थापित हो जाए। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य की सीमा बांग्लादेश, नेपाल, भूटान और पूर्वोत्तर राज्यों से लगती है इसलिए वहां अच्छी सड़कों की आवश्यकता है।
सूत्रों ने बताया कि बनर्जी ने इस मुलाकात के दौरान, ताजपुर में गहरे समुद्र के बंदरगाह समेत लंबित सड़क तथा परिवहन परियोजनाओं पर बातचीत की। बनर्जी, केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने के इरादे से बातचीत के लिए अभी दिल्ली में हैं।
कोलकाता से लगभग 200 किलोमीटर दूर स्थित बंदरगाह में 15,000 करोड़ रुपये का निवेश होने की उम्मीद है और इसके पूरा होने पर पश्चिम बंगाल में रोजगार के 25,000 नए अवसर पैदा हो सकते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा, “नितिन गडकरी ने मुझे अपने मुख्य सचिव को भेजने को कहा है। उनके महानिदेशक, लोक निर्माण मंत्री, सचिव, परिवहन सचिव और वह भी वहां होंगे। मेरे मुख्य सचिव शुक्रवार को बैठक के लिए आज दिल्ली आ रहे हैं। गडकरी जी की सुविधा के लिए मैं अपने मुख्य सचिव को उनसे मुलाकात करने के लिए भेज दूंगी।”
बैठक के बाद बनर्जी ने कहा, “मैंने गडकरी जी से अनुरोध किया है कि अच्छा होगा यदि इलेक्ट्रिक वाहन बनाने के लिए हमारे राज्य में उत्पादन उद्योग स्थापित हों। बंगाल की सीमा बांग्लादेश, नेपाल, भूटान और पूर्वोत्तर राज्यों से लगती है इसलिए हमें अच्छी सड़कें चाहिए।”
सूत्रों ने बताया कि बनर्जी पेट्रोलियम, विमानन, रेलवे और वाणिज्य जैसे अहम विभागों के मंत्रियों से भी जल्दी ही मुलाकात करेंगी।
गडकरी के कार्यालय ने ट्वीट किया, “पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री सुश्री ममता बनर्जी ने केंद्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी से आज मुलाकात की। अधिकारियों की उपस्थिति में उन्होंने राज्य में विभिन्न सड़क परियोजनाओं की समीक्षा की।”
सूत्रों ने यह भी बताया कि तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तीसरे चरण के तहत पश्चिम बंगाल में ग्रामीण सड़कों के निर्माण पर केंद्रीय मंत्री को एक रिपोर्ट भी सौंपी। इसके बाद बनर्जी ने द्रमुक सांसद कनिमोझी से मुलाकात की और तमिलनाडु तथा पश्चिम बंगाल में राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की।
शाम को जावेद अख्तर और शबाना आजमी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री से मुलाकात की और उन्हें विधानसभा चुनाव में जीत की बधाई दी। अख्तर और आजमी ने कलाकारों को रॉयल्टी सुनिश्चित करने वाले विधेयक का समर्थन करने के लिए बनर्जी को धन्यवाद दिया।
“खेला होबे” के नारे पर सवाल किये जाने पर अख्तर ने कहा कि इस नारे को अब और प्रचार की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा, “यह बहस के परे जा चुका है।” अख्तर के बगल में खड़ी बनर्जी ने कहा, “खेला होबे पर आपको एक गीत की रचना करनी है।” बनर्जी शुक्रवार को दिल्ली से वापस जाएँगी।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News