यात्री ट्रेन संचालन में सार्वजनिक-निजी भागीदारी के लिए बोलियां लगाने की प्रक्रिया शुरू हुईं :रेलवे

2021-07-24T00:57:35.75

नयी दिल्ली, 23 जुलाई (भाषा) रेलवे ने कहा है कि यात्री ट्रेन संचालन परियोजना में सार्वजनिक-निजी भागीदारी (पीपीपी) के लिए बोली लगाने की प्रक्रिया शुक्रवार को शुरू हो गई, जिसमें सार्वजनिक और निजी, दोनों क्षेत्रों की कंपनियों ने दिलचस्पी दिखाई है।
रेलवे के एक बयान में कहा गया, ‘‘विस्तृत अभ्यास और उद्योगपियों के साथ कई दौर की चर्चा के बाद, यात्री ट्रेन संचालन परियोजना में पीपीपी के लिए बोलियां 23 जुलाई, 2021 को शुरू की गई हैं। सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) के माध्यम से भारत में विश्व स्तरीय ट्रेनें चलाने का यह एक बिल्कुल नया प्रयास है।’’ रेल मंत्रालय को निजी और सार्वजनिक दोनों क्षेत्रों से लगभग 7200 करोड़ रुपये के निवेश से लगभग 40 आधुनिक रैक के साथ 29 जोड़ी ट्रेनों के संचालन के लिए बोलियां प्राप्त हुई हैं।
इसमें कहा गया है, रेल मंत्रालय तेजी से मूल्यांकन पूरा करेगा और बोलियों पर फैसला करेगा।
शुक्रवार को राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि रेलवे ने पीपीपी मोड के माध्यम से 12 क्लस्टर से अधिक 151 ट्रेनों (रेक) को शामिल करने के लिए निजी भागीदारी के लिए बोली आमंत्रित की है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News