एम्स प्रशासन ने वरिष्ठ डॉक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया

punjabkesari.in Tuesday, Jun 02, 2020 - 04:42 PM (IST)

नयी दिल्ली, दो जून (भाषा) एम्स प्रशासन ने एक वरिष्ठ रेजिडेंट डॉक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है जिन्होंने ट्विटर पर दावा किया था कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर द्वारा एन95 मास्क के बारे में दिए गए आंकड़े "झूठ" हैं।

डॉ श्रीनिवास राजकुमार टी द्वारा 25 मई को पोस्ट किए गए ट्वीट में एन-95 मास्क की गुणवत्ता और मानकीकरण को लेकर सवाल किया गया था।

एम्स प्रशासन ने कारण बताओ नोटिस में कहा, “डॉ श्रीनिवास ने अपने दावे का समर्थन करने के लिए कोई विवरण नहीं दिया है।

एम्स में वरिष्ठ डाक्टर होने के साथ ही वह आरडीए, एम्स के सचिव भी हैं। इन महत्वपूर्ण पदों पर होने के कारण उनके बयान देश भर में जनता और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रभावित कर सकते हैं।’’
नोटिस में कहा गया है कि ऐसे समय में जब देश महामारी के खिलाफ लड़ रहा है, इस तरह के अपुष्ट बयानों से अग्रिम पंक्ति में काम करने वाले स्वास्थ कार्यकताओं का मनोबल प्रभावित हो सकता है।

उनसे सवाल किया गया है कि केंद्रीय सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण और अपील) नियमों के उल्लंघन के लिए क्यों नहीं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्हें तीन जून शाम पांच बजे तक का समय दिया गया है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

PTI News Agency

Related News

Recommended News