परगट बोले, फ़र्ज़ी नेता और फ़र्ज़ी आंकड़े - गलत आंकड़े पेश करने पर की सिसोदिया निन्दा

punjabkesari.in Tuesday, Nov 30, 2021 - 11:11 AM (IST)

चंडीगढ़,  (रमनजीत सिंह) आम आदमी पार्टी पर फिर से हमला बोलते हुए पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह ने आज कहा कि फ़र्ज़ी नेता लोगों को गुमराह करने के लिए फ़र्ज़ी आंकड़े पेश कर रहे हैं। बयान जारी करके पंजाब के शिक्षा मंत्री ने उम्मीद जताई कि दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा 250 स्कूलों के टिकानों संबंधी जारी की गई सूची सही थी। परगट सिंह ने कहा कि उनको लगता है कि सिसोदिया को जवाब देने की इतनी जल्दी थी कि उन्होंने उनकी (परगट सिंह) तरफ से जो लिखा गया था, वह पढ़ा ही नहीं। उन्होंने कहा कि सिसोदिया को स्पष्ट तौर पर कहा था कि वह नेशनल परफॉरमेंस ग्रेडिंग इंडैक्स (पी.जी.आई.) 2021 के मापदण्डों के मुताबिक ही तुलना करेंगे। परगट सिंह ने कहा कि मनीष सिसोदिया द्वारा जारी की गई सूची में स्कूल वाइज दाखि़ला संख्या, पक्के अध्यापकों और खाली पदों, दसवीं के नतीजों और प्रिंसिपल के नामों के बारे भी जानकारी दी जानी चाहिए थी। उन्होंने सिसोदिया को 2013 -14 से 2019-20 तक के आंकड़ों का जिक्र करने के लिए भी कहा, जिससे सारी तस्वीर स्पष्ट हो सके। परगट सिंह ने कहा कि उन्होंने पहले भी यही जानकारी माँगी थी परन्तु वह हैरान हैं कि सिसोदिया क्या छिपा रहे हैं।

परगट सिंह ने कहा कि अगर आंकड़ों में फर्क पाया गया तो वह दिल्ली के उप मुख्यमंत्री को इस तरह भागने नहीं देंगे। विद्यार्थियों के लिए वह शिक्षा में क्या सुधार करेंगे? उन्होंने कहा कि जब प्रिंसिपल ही नहीं हैं तो वह ट्रेनिंग पर किस को भेज रहे हैं? 

परगट सिंह ने कहा कि जब बच्चे दसवीं में फेल हो गए तो फिर उच्च शिक्षा के लिए कौन जाएगा? उन्होंने कहा कि जब नया स्कूल ही नहीं है तो बुनियादी ढांचे की बात क्यों की जाए ? पंजाब के शिक्षा मंत्री ने कहा कि सिसोदिया इन नुक्तों पर चर्चा करने से झिझकते हैं, इसलिए उन्होंने अब मनीष सिसोदिया की बजाए दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को सही सूची देने आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि आओ हम एक बार फ़ैसला करें कि कौन ‘‘असली’’ और कौन ‘‘नकली’’ आम आदमी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ramanjit Singh

Related News

Recommended News