आतंकवाद की काली रातों में तो बलविंद्र बच गए पर कै. अमरेंद्र राज में दिनदिहाड़े बच नहीं पाए : तरुण चुघ

2020-10-17T21:39:52.353

चंडीगढ़, (शर्मा): भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुघ ने शौर्य चक्र विजेता को दिनदिहाड़े 12 गोलियां मार कर शहीद करने की आलोचना की। चुघ ने अमरेंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि शहीद बलङ्क्षवद्र ङ्क्षसह की हत्या की निष्पक्ष व प्रभावी जांच करवाकर हत्यारों को कठोरतम सजा व शीघ्र न्याय दिलवाने के लिए समय सीमा निश्चित करके विशेष अदालत का गठन किया जाए। 

 

चुघ ने कहा कि आतंकवाद के काले दौर में शहीद बलङ्क्षवद्र ङ्क्षसह पर 20 प्राणघातक हमले हो चुके थे। उन्होंने पंजाब में आतंकवादियों को खुली चुनौती दी हुई थी। शहीद बलङ्क्षवद्र ङ्क्षसह के बहादुर व दलेर परिवार के साथ इस दुख की घड़ी में सभी राष्ट्रवाद सोच के समर्थक चट्टान की तरह खड़े है। 
चुघ ने कहा कि भाजपा देश की एकता, अखंडता की रक्षा करने वालों को पार्टीबाजी से ऊपर उठकर सलाम व आदर करती है। चुघ ने इस संबंध में कैप्टन सरकार द्वारा एस.ई.टी. के गठन पर टिप्पणी करते हुए कहा कि एस.ई.टी. की जांच में सभी पहलुओं पर बारीकी से जांच के साथ एस.ई.टी. की रिपोर्ट समयसीमा के अंदर सौंपने के आदेश दिए जाने चाहिए। 


Edited By

Vikash thakur

Related News