मांगों को लेकर स्कूल निदेशकों से मिले शिक्षक संगठन

2020-10-22T20:01:11.887

चंडीगढ़, (पांडेय): शिक्षक संगठनों की तालमेल कमेटी के आह्वान पर वीरवार को शिक्षक संगठनों का संयुक्त प्रतिनिधिमंडल निदेशक माध्यमिक शिक्षा डा. जे गणेशन और निदेशक मौलिक शिक्षा निदेशक प्रदीप डागर से मिला और मांगों का ज्ञापन सौंपा और प्रारंभिक चर्चा भी की गई। प्रतिनिधिमंडल का प्राथमिक मुद्दा एप्स व निजीकरण का विरोध था। निदेशक माध्यमिक शिक्षा ने बताया टी.जी.टी. से पी.जी.टी. की पदोन्नति के लिए विभागीय पदोन्नति कमेटी की मीङ्क्षटग 10 दिन के अंदर हो जाएगी। हाई स्कूल हैड मास्टरों की पदोन्नति पर भी काम चल रहा है और नवम्बर के अंत तक पदोन्नति सूची जारी कर दी जाएगी।

 

प्रधानाचार्य पदों पर पदोन्नति में जो कानूनी बाधाएं हैं, उन्हें दूर करने के लिए महाधिवक्ता हरियाणा सरकार को लिख दिया गया है। एल.टी.सी. का बजट वित्त विभाग से मांगा जा रहा है। लगभग 20000 अध्यापकों को निकट भविष्य में ए.सी.पी. भी लगाई जानी है जो नवम्बर तक संबंधित अध्यापकों को अवार्ड कर दी जाएगी। नवम्बर में लैक्चरर का स्थायीकरण का कार्य संपन्न करवाया जाएगा। प्रतिनिधिमंडल निदेशक मौलिक शिक्षा प्रदीप डागर से मिला और मांग पत्र पर चर्चा हुई। निदेशक मौलिक शिक्षा ने टी.जी.टी. व मौलिक स्कूल मुख्याध्यापकों की ए.सी.पी. की शक्तियां जिला स्तर देने बारे सहमति जताई और इस बारे मुख्य लेखा अधिकारी को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। प्रतिनिधिमंडल में दयानंद दलाल, रमेश मलिक, सुरेश लितानी, प्रभु ङ्क्षसह, हरिओम राठी, बनारसी दास, आर्य संजय सहारण, ङ्क्षसह सतपाल ङ्क्षसह ङ्क्षसधु, विजयपाल, राकेश दलाल, राज ङ्क्षसह मलिक, जोगेंद्र मलिक, विनोद कुमार, रमेश सिवाच, बलवान ङ्क्षसह शामिल थे।
10 नवम्बर को जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेंगे शिक्षक 
31 अक्तूबर और 1 नवम्बर को सभी जिलों में सभी शिक्षक संगठनों की संयुक्त मीङ्क्षटग आयोजित की जाएंगी तथा जिला स्तरीय तालमेल कमेटी का गठन किया जाएगा। 10 नवम्बर को पूरे प्रदेश में जिला मुख्यालयों पर जोरदार प्रदर्शन किए जाएंगे। 


Edited By

Vikash thakur

Related News