घर से निकाले गए युवक ने पेड़ पर बनाया आशियाना, नाम दिया ‘हवा महल’

कानपुर:कानपुर में बेघर हुए एक युवक ने पेड़ को ही अपना आशियाना बना लिया और उसका नाम हवा महल रख दिया। दरअसल कानपुर के रहने वाले पवन शर्मा को उनके परिजनों ने घर के बाहर निकाल दिया। बेघर होने के बाद पवन के सामने सबसे बड़ी समस्या पेट पालने की खड़ी हो गई। जिसको जिसको पूरा करने के लिए उन्होंने जूही खलवा पुल पर चढ़ाई चढ़ रहे ठेला रिक्शे वालों की मदद करने लगे। इसके एवज में उन्हें पेट भरने लायक पैसे मिल जाते हैं। 
PunjabKesari
विनोद दिन भर मेहनत करने के बाद पुल के किनारे ही रात गुजारने लगा लेकिन जब वहां पर शराबियों का जमावड़ा लगने लगा तो वह काफी परेशान हो गया। उनसे निजात पाने के लिए विनोद ने वहीं पर लगे एक पेड़ पर अपना आशियाना बना डाला। पवन ने पेड़ पर चढऩे के लिए उसकी टहनियों को काटकर उसको सीढ़ी का रूप दे दिया और पेड़ के ऊपर बांस की लकडिय़ों का बेस बनाकर उसपर पुवाल बिछा दिया। पवन सुबह उठकर ढाल पर चढ़ रहे रिक्शे को धक्का देकर उनकी मंजिल तक पहुँचता है जिसकी एवज में रिक्शा चालक उसको पैसा देते हैं। शाम तक काम करने के बाद पवन होटल में जाकर खाना खाने के बाद वापस अपने हवा महल नामक मकान में आकर आराम फरमाता है। 
PunjabKesari
ऐसा नहीं है कि विनोद का इस दुनिया में कोई नहीं है। उसका पूरा परिवार है लेकिन उसकी हरकतों से परेशान होकर उसके घरवालों ने भगा दिया है। पवन अपने घर वापस जाना चाहता है लेकिन उसके घरवाले उसे वापस नहीं बुला रहे हैं जिसकी वजह से वह पेड़ पर रहने को मजबूर है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!