कांग्रेस की शिकायत पर राकेश सिंह को नोटिस, आधा दर्जन बीजेपी कार्यक्रताओं के खिलाफ FIR

जबलपुर: जिले में निर्वाचन कार्यालय में रिटर्निंग अधिकारी के कमरे में भीड़ को लेकर जाने से बीजेपी प्रत्याशी राकेश सिंह सहित कई पार्टी कार्यकर्ता कानून के घेरे में आ गए। कांग्रेस की शिकायत पर जिला निर्वाचन अधिकारी छवि भारद्वाज ने भीड़ को अपने साथ अंदर तक लाने के लिए जहां राकेश सिंह को शो काज नोटिस जारी किया है। वहीं अन्य शीर्ष नेताओं के खिलाफ ओमती थाने में एफआईआर भी करवाई गई है।


PunjabKesari

इन बीजेपी कार्यकर्ताओं में सांसद प्रह्लाद पटेल, वीडी शर्मा, पूर्व मंत्री शरद जैन, युवा मोर्चा अध्यक्ष अभिलाष पांडेय, महापौर स्वाति गोडबोले सहित 8 के खिलाफ जिला निर्वाचन आयोग ने एफआईआर करवाई है। वही भीड़ को न संभाल पाने के चलते ओमती थाना प्रभारी नीरज वर्मा को जिला निर्वाचन अधिकारी छवि भारद्वाज ने निलंबित कर दिया है।  इसके साथ साथ सीएसपी शशिकांत शुक्ला और डिस्ट्रिक्ट होमगार्ड कमांडेंट नीरज सिंह के निलंबन के लिए पुलिस मुख्यालय को प्रतिवेदन भेजा गया है।

PunjabKesari

गौरतलब है कि सोमवार को जबलपुर लोकसभा से बीजेपी प्रत्याशी और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए विशाल रोड शो किया। जिसके साथ वे कलेक्ट्रेट स्थित निर्वाचन कार्यालय पहुंचे और अपना नामांकन दाखिल किया। उनके रोड शो में हजारों की संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता शामिल हुए। लेकिन नियमनुसार नामांकन पर्चा दाखिल करने के लिए सिर्फ 5 लोग ही रिटर्निंग अधिकारी के कक्ष में जाते हैं किंतु राकेश सिंह अपने साथ पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पूर्व पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव सहित दर्जनों भाजपा नेताओं को अपने साथ रिटर्निंग अधिकारी के कक्ष में ले गए। जिस पर कांग्रेस ने आपत्ति जताई और चुनाव आयोग को इस सम्बन्ध में शिकायत की। जिसे गंभीरता से लेते हुए आचार संहिता का उल्लघंन मानते हुए उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की गई।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!