जनरल रावत की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु पर पूर्वोत्तर में शोक की लहर

punjabkesari.in Thursday, Dec 09, 2021 - 03:57 AM (IST)

गुवाहाटीः पूर्वोत्तर के राज्यों के राज्यपालों, मुख्यमंत्रियों और अन्य तमाम हस्तियों ने देश के पहले प्रधान रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका और सेना के 11 अन्य अधिकारियों/कर्मियों की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में बुधवार को मृत्यु हो जाने पर शोक व्यक्त किया। 

तमिलनाडु के कून्नूर के निकट घने कोहरे के कारण सेना का हेलीकॉप्टर बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया। हादसे में जनरल रावत सहित कुल 13 लोगों मौत हुई है। रावत वेलिंगन में स्थित डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज में व्याख्यान देने जा रहे थे। पूर्वोत्तर के सभी आठ राज्यों से लोगों ने जनरल रावत की मृत्यु पर शोक जताया है। 

असम के मुख्यमंत्री और नॉर्थईस्ट डेमोक्रेटिक एलायंस (एनईडीए) के समन्वयक हिमंत बिस्व सरमा ने कहा, ‘‘जनरल बिपिन रावत भारत के बेहतरीन सैन्य अफसरों में थे और रणनीति के क्षेत्र में बेहद प्रतिभाशाली थे। उनके जाने से हमने एक स्तंभ खो दिया है। मेरी संवेदनाएं जनरल रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत के परिवार के साथ हैं।'' असम और नगालैंड के राज्यपाल जगदीश मुखी ने अपने शोक संदेश में कहा कि जनरल रावत ऊंचे कद और बुलंद आवाज के मालिक थे जिन्होंने देश की रक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 

राज्यपाल ने कहा कि उनकी मृत्यु राष्ट्र के लिए अपूरणीय क्षति है और सैन्य बलों में उनकी सेवा को हमेशा कृतज्ञता के साथ याद किया जाएगा। नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो ने घटना पर शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘जनरल बिपिन रावत, मधुलिका रावत और 11 अन्य लोगों की मृत्यु की सूचना पाकर दुखी और शोकाकुल हूं। मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवार के साथ हैं। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति दे।'' 

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब, अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू, मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा, सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग, मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरामथंगा और मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बिरेन सिंह ने भी जनरल रावत की मृत्यु पर शोक जताया है। त्रिपुरा के राज्यपाल एस. एन. आचार्य, अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) डॉक्टर बी. डी़ मिश्रा ने भी जनरल रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में हुई मौत पर शोक जताया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News