See More

भारतीय मूल के दम्पत्ति से संदिग्ध नकदी बरामद

2020-09-16T12:46:27.32

लंदन:  ब्रिटेन में अपराध रोकथाम अधिकारियों और पुलिस ने भारतीय मूल के एक दम्पत्ति के पास से 3,00,000 पाउंड से अधिक नकदी बरामद की है जिसे अपराध से अर्जित किए जाने की आशंका है। राष्ट्रीय अपराध एजेंसी (एनसीए) ने बताया कि दंपत्ति शैलेश और हरकित सिंगारा के उत्तर पश्चिम लंदन के एडवेयर स्थित घर से 2,00,000 पाउंड से अधिक नकदी बरामद की गई है।

 

NCA में ‘थ्रेट रिस्पान्स' की प्रमुख रैचल हर्बर्ट ने कहा, ‘‘ कई ‘मनी सर्विस बिज़नेस' (एMSB) अवैध नकदी के लेन-देन को सुविधाजनक बनाकर ब्रिटेन के लिए एक जोखिम पैदा कर रहे हैं। राष्ट्रीय आर्थिक अपराध केन्द्र और उसके सहयोगियों ने इस खतरे को समझा, जो वैध व्यवसायों का समर्थन करते हुए संदिग्ध एमएसबी के खिलाफ अधिक प्रभावी कार्रवाई करने में सक्षम हैं।'' अधिकारियों ने कहा कि सिंगारा के व्यापारिक सहयोगी शैलेश मंडालिया के पास से भी 1,00,000 पाउंड बरामद किए हैं। यह नकदी उसके पास मौजूद एक बैग में थी। इन तीनों ने अदालत में यह दावा किया कि नकदी वैध थी और किसी भी भ्रम के लिए कई वर्षों का खराब लेखांकन (अकाउंटिंग) जिम्मेदार है।

 

अदालत ने 10 सितम्बर को हालांकि उनकी यह दलील खारिज कर दी। मेट पुलिस ‘ऑर्गनाइज्ड क्राइम पार्टनर्शिप' (ओसीपी) के प्रमुख एवं डिटेक्टिव चीफ इंस्पेक्टर टोनी ओ'सुल्लीवन बताया कि तीनों पर कोई भी आरोप नहीं है और इन्हें किसी भी मामले में दोषी नहीं ठहराया गया है। लेकिन यह 3,00,000 पाउंड इन्हीं के पास से बरामद हुए हैं और अब इनका इस्तेमाल समुदायों के हित के लिए किया जाएगा। अदालत ने इन तीनों को अलग से कुल 4,350 पाउंड का भुगतान करने का निर्देश भी दिया है।

 

 


Tanuja

Related News