जया-कंगना की लड़ाई में कूदी शिवसेना, बोले- बच्चन ने बेबाकी से ​सिनेमा जगत की आवाज उठाई

2020-09-16T11:39:36.25

नेशनल डेस्क: बॉलीवुड ड्रग्स कनैक्शन को लेकर देश में घमासान मच गया है। दिग्गज फिल्म अदाकारा और राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने भी इस मुद्दे पर बोलते हुए कुछ लोगों पर फिल्मजगत को बदनाम करने की साजिश का आरोप लगाय तो कंगना रनौत ने उनका जवाब दिया। इस लड़ाई में जया बच्चन को फिल्मी कलाकारों के साथ साथ शिवसेना का भी समर्थन मिल गया है। पार्टी ने जया बच्चन की तारीफ करते हुए कहा कि वह बेबाकी के लिए प्रसिद्ध हैं। 

 

सामना में लिखा गया कि हिंदुस्तान का सिनेजगत पवित्र गंगा की तरह निर्मल है, ऐसा दावा कोई नहीं करेगा लेकिन जैसा कुछ टीनपाट कलाकार दावा करते हैं कि सिनेजगत 'गटर' है, ऐसा भी नहीं कहा जा सकता। कुछ लोग जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं। ऐसे में जया बच्चन द्वारा उन लोगों को करारा जवाब दिया गया है। वह अपनीं बेबाकी के लिए मशहूर हैं। 

 

सामना में आगे लिखा गया कि जया बच्चन सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर हमेशा खुलकर बोलती हैं। वह अपने विचारों को कभी छिपाती नहीं। पार्टी ने लिखा कि फिल्म इंडस्ट्री की बदनामी हुई तो कई लोग जुबान बंद करके बैठे हैं। ऐसा लगता है मानों आतंकवाद के साए में जी रहे हों लेकिन ऐसे माहौल में जया बच्चन ने फिर अपनी प्रतिक्रिया दी और खुलकर उन्होंने अपनी बात कही। 


दरअसल जया बच्चन ने फिल्म उद्योग की कथित आलोचना पर नाराजगी जताते हुए कहा था कि कुछ लोग जिस थाली में खाते हैं, उसी थाली में छेद करते हैं। उन्होंने कहा था कि केवल कुछ लोगों की वजह से आज मनोरंजन उद्योग आलोचना का शिकार हो रहा है जो हर दिन करीब पांच लाख लोगों को प्रत्यक्ष और करीब 50 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार देता है। हालांकि जया के इस बयान पर कंगना रनौत ने पलटवार करते हुए कहा कि यदि मेरी जगह आपकी पुत्री श्वेता और पुत्र अभिषेक होते तब भी क्या आप यही बात कहती। 


vasudha

Related News