13 खरब की मार्केट कैप कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज

2020-07-23T17:39:24.797

मुंबईः एशिया के सबसे अमीर मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज कर्जमुक्ति और फेसबुक और गूगल जैसी सोशल मीडिया की दिग्गजों के जियो प्लेटफॉर्म्स में साझीदार बनने से निवेशकों की पंसदीदा बनी हुई है। गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2078.90 रुपए के नए शिखर पर पहुंचा तो इसके बूते कंपनी ने देश की सबसे मूल्यवान और 13 खरब रुपए से अधिक माकेर्ट कैप वाली पहली कंपनी बनने का श्रेय हासिल किया। बीएसई में कारोबार की समाप्ति पर रिलायंस इंडस्ट्रीज का माकेर्ट कैप कल के 1270480.06 करोड रुपए की तुलना में 36849.33 करोड रुपए की छंलाग से 13 लाख छह हजार 329 करोड 39 लाख रुपए पर पहुंच गया। कंपनी के शेयर में आज 2060.65 रुपए पर 56.55 रुपए अर्थात 2.82 प्रतिशत की तेजी आई।

सत्र की शुरूआत में रिलायंस का शेयर कल के बंद भाव पर ही खुला और कारोबार के दौरान अच्छी उठापटक रही। नीचे में 1991.10 रुपए और ऊपर 2078.90 रुपए तक चढ़ने के बाद आज बीएसई में शेयर का बंद भाव 2060.66 रुपए पर 56.55 रुपए अर्थात 2.82 प्रतिशत अधिक रहा। इस वर्ष मार्च के निचले स्तर 867.82 रुपए के मुकाबले शेयर 150 प्रतिशत की छंलाग लगा चुका है। रिलायंस इंडस्ट्रीज के पूरी तरह कर्जमुक्त होने और जियो प्लेटफॉर्म्स में फेसबुक और गूगल जैसी दिग्गजों के मोटा निवेश करने से शेयर छंलाग लगा रहा है। हालांकि 15 जुलाई को रिलायंस इंडस्ट्रीज की एजीएम के बाद शेयर को कुछ झटका लगा था. किंतु वह इससे जल्दी ही उबर गया।

आज के कारोबार के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज का अधिकतम प्राइस बैंड 2204.50 रुपए और निम्नतम 1803.70 रुपए तय किया गया था। संवेदी सूचकांक 38140.47 अंक पर 268.95 अंक अर्थात 0.71 प्रतिशत ऊपर बंद हुआ। एनएसई में रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर का भाव 2057.80 रुपए पर 53.80 रुपए अर्थात 2.68 प्रतिशत ऊपर बंद हुआ। रिलायंस का आंशिक भुगतान वाले राईट इश्यू के शेयर का भाव आज बीएसई में 6.82 प्रतिशत अर्थात 75.40 रुपए बढ़कर 1180.95 रुपए और एनएसई में 1179.85 रुपए पर 74.40 रुपए अर्थात 6.73 प्रतिशत ऊपर बंद हुआ। इसका बाजार पूंजीकरण भी 50 हजार करोड़ से ऊपर 50033.82 करोड़ रुपए हो गया।


Yaspal

Related News