पुलवामा आतंकी हमला बरसी: शहीद हुए थे 40 जवान, भारत ने एयर स्ट्राइक कर लिया था बदला

punjabkesari.in Sunday, Feb 14, 2021 - 11:34 AM (IST)

नेशनल डेस्कः 14 फरवरी का दिन इतिहास में जम्मू-कश्मीर की सबसे दुखद घटना की याद दिलाता है। साल 2019 में 14 फरवरी को आतंकवादियों ने इस दिन को देश के सुरक्षाकर्मियों पर कायराना हमले के लिए चुना। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF)  40 जवान शहीद हो गए और कई गंभीर रूप से घायल हुए थे। पुलवामा आतंकी हमले को दो साल हो चुके हैं लेकिन इशके जख्म और दर्द आज भी हरे हैं। 14 फरवरी जब लोग वेलेंटाइन डे (Valentine's Day) पर अपने दोस्तों के साथ इस दिन का जश्न मना रहे थे तभी दोपहर करीब पौने चार बजे टीवी पर पुलवामा हमले की खबर आई। पूरा देश सन्न रह गया। आतंकियों की इस कायराना हरकत से लोग रो पड़े।

PunjabKesari

क्या हुआ था 14 फरवरी 2019 को
पुलवामा जिले के लीथोपोरा में CRPF जवानों से भरी बस से एक विस्फोटक से भरी गाड़ी सीधी जा टकराई और एक जोरदार भीषण धमाका हुआ। आमने-सामने से टक्कर होने पर पहले तो किसी को कुछ समझ नही आया। धमाके का काला धुआं वहां आसपास इतना भर गया कि कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। धुआं हटा तो सड़क पर हमारे देश के वीर जवानों के पार्थिव शरीर धरती पर पड़े हुए थे। धमाका इतना तेज था कि सड़क कई दूरी तक खून से सन्नी हुई थी। जवान मोर्चा संभालते उससे पहले ही आतंकियों ने सीआरपीएफ की 78 गाड़ियों के काफिले पर ताबड़तोड़ गोलीबारी शुरू कर दी। जवानों ने इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया और जवाबी कार्रवाई में आतंकी भाग खड़े हुए। मीडिया में पुलवामा की तस्वीरें जब सामने आईं तो पूरा देश दहल गया। हर किसी की जुबान पर एक ही बात थी कि इस हमले बदला लो, आतंकियों को मारो और दुुश्मनों को करारा जवाब दो।

PunjabKesari

20 साल के लड़के ने किया हमला
पुलवामा हमले को अंजाम देने वाला उसी इलाके का महज 20 साल का एक लड़का था जिसका नाम आदिल अहमद डार था। आदिल पाकिस्तान स्थित आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा हुआ था। हमले से पहले उसने वीडियो भी बनाया था जिसमें उसने कहा था कि वो इसके बाद जन्नत को जाएगा। सोशल मीडिया पर उसका वीडियो काफी वायरल हुआ था। 

PunjabKesari

भारत ने एयर स्ट्राइक कर लिया बदला
पुलवामा आतंकी हमले के बाद पूरे देश में गुस्सा और रोष था। पूरा देश एक सुर में कह रहा था कि आतंकियों से बदला लिया जाए। भारतीय सेना ने देशवासियों को भरोसा दिलाया कि वे जब तक वीर जवानों की शहादत का बदला नहीं लेंगे शांत नहीं बैठेंगे लेकिन तारीख और वक्त वे खुद तय करेंगे। हुआ भी ऐसा ही, 26 फरवरी को तड़के भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में स्थित आतंकियों के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक कर दी। पुलवामा हमले के 12 दिन के अंदर ही वायु सेना ने आतंकियों के ठिकाने ध्वस्त कर दिए। एयर स्ट्राइक में काफी आतंकी मारे गए थे। वायुसेना के एयरस्ट्राइक की किसी को कानों-कान भनक भी नहीं लगी।

PunjabKesari

भारतीय वायुसेना के 12 मिराज 2000 जेट्स ने ऐसी तबाही मचाई की दुश्मन कांप उठे और उनको भागने के लिए भी जगह नहीं मिली। पूरे देश में माहौल ही बदल गया। हर किसी की जुबान पर एयर स्ट्राइक का जिक्र और वायु सेना की बहादुरी की चर्चा थी। सेना ने इस एयरस्ट्राइक को पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों को दी श्रद्धांजलि बताया। पाकिस्तान ने इस हमले में ज्यादा नुकसान से इंकार किया था लेकिन पूरी दुनिया जानती है कि उसे कितनी क्षति पहुंची थी। दुनिया भर की मीडिया में भारत द्वारा की गई एयर स्ट्राइक की चर्चा कई दिनों तक रही।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News