18 साल के बासित ने पुलवामा का नाम किया रोशन, NEET में टॉप कर रचा इतिहास

2020-10-18T14:56:31.18

नेशनल डेस्क: देशभर के मेडिकल कॉलेजों में ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम में दाखिले के लिए आयोजित ऑल इंडिया एलिजिबिलिटी एग्जाम (नीट 2020) का परिणाम घोषित हो चुका है। इस परीक्षा में शोएब आफताब ने 720 में से 720 अंक लाकर टॉप किया है। इस परीक्ष के बाद जम्मू कश्मीर के पुलवामा का नाम भी खूब रोशन हो रहा है। यहां के 18 साल के बासित बिलाल खान ने नीट परीक्षा में 720 में से 695 अंक हासिल कर प्रदेश में टॉप किया है। 

PunjabKesari

पुलवामा के छोटे से गांव रत्निपोरा के रहने वाले एक बासित बिलाल ने परीक्षा में टॉप करके इतिहास  बना लिया। दरअसल यह पहली बार है कि जम्मू-कश्मीर के किसी छात्र ने इतने अच्छे रैंक से यह परीक्षा पास की हो। बासित को इस सफलता पर उप राज्यपाल के सलाहकार फारूक खान ने उन्हे सम्मानित किया है। 

 

बिलाल ने बताया कि यह कामयाबी उनके लिए आसान नहीं थी और खराब हालात के चलते काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। बासित के पिता एक डेंटल सर्जन हैं। परिवार का कहना है कि बासित इससे भी अच्छा कर सकता था लेकिन हलात के चलते उसके रैंक में थोड़ी कमी रही। अगर सभी सुविधाएं मिलती तो उसका रैंक और अच्छा हो सकता था। 


बिलाल के अलावा बडगाम जिले के शरणजीत सिंह को नीट में दूसरे प्रयास में सफलता मिली है। शरणजीत ने 682 अंकों के साथ जम्मू-कश्मीर में दूसरा स्थान हासिल किया है। इससे पहले भी उन्होंने पिछले साल नीट की परीक्षा दी थी और 296 अंक हासिल किए थे। दोबारा प्रयास में 682 अंक मिले हैं। शरणजीत की ऑल इंडिया रैंक 504 है। 
 


vasudha

Related News