किसी को बिना पता चले सरकारी प्रोजेक्ट को 'तीसरी आंख' से देखते हैं PM मोदी, खुद बताया कैसे ड्रोन से रखते हैं नजर

punjabkesari.in Friday, May 27, 2022 - 02:34 PM (IST)

नेशनल डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'ड्रोन तकनीक को लेकर भारत में जो उत्साह देखने को मिल रहा है, वह अद्भुत है। जो ऊर्जा नजर आ रही है, वह भारत में ड्रोन सर्विस और ड्रोन आधारित इंडस्ट्री की लंबी छलांग का प्रतिबिंब है। यह भारत में रोजगार के एक उभरते हुए बड़े सेक्टर की संभावनाएं दिखाती हैं।' दिल्ली के प्रगति मैदान में शुक्रवार को दो दिवसीय 'भारत ड्रोन महोत्सव 2022' का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि देश में जहां भी सरकारी परियोजनाओं पर काम हो रहा है, हर जगह वहां जाना तो संभव नहीं है, ऐसे में मैं ड्रोन के जरिए नजर रख सकता हूं।

 

केदारनाथ के पुनिर्माण का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब काम शुरू हुआ तो मैं ड्रोन के जरिए केदारनाथ के काम का निरीक्षण करता था। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज सरकारी कामों की गुणवत्ता को देखना है तो यह जरूरी नहीं है कि मुझे वहां निरीक्षण करने कि लिए जाना है।'' उन्होंने कहा, 'मैं ड्रोन भेज दूं तो जानकारी वह लेकर आ जाता है और उन्हें पता भी नहीं चल पाता है कि मैंने जानकारी ले ली है।''पीएम मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों के समय तकनीक को समस्या का हिस्सा समझा गया, उसको गरीब विरोधी साबित करने की कोशिशें हुईं।

 

इस कारण 2014 से पहले गवर्नेंस में टेक्नॉलॉजी के उपयोग को लेकर उदासीनता का वातावरण रहा। इसका सबसे अधिक नुकसान गरीब, वंचितों, मिडिल क्लास को हुआ। प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते 8 साल में जो प्रयास हुए हैं, उसने किसानों का तकनीक के प्रति भरोसा बहुत बढ़ा दिया है। आज देश का किसान तकनीक के साथ कहीं ज्यादा सहज है, उसे ज्यादा से ज्यादा अपना रहा है। ड्रोन तकनीक हमारे कृषि सेक्टर को अब दूसरे स्तर पर ले जाने वाली है। स्मार्ट तकनीक आधारित ड्रोन इसमें बहुत काम आ सकते हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News