पीडीपी के वहीद पर्रा 15 दिन की एनआईए की हिरासत में

2020-11-27T16:45:39.787

जम्मू:  देश में 2019 में हुए संसदीय चुनाव में समर्थन हासिल करने के लिए आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन के साथ कथित सांठगांठ के मामले में इस सप्ताह की शुरुआत में गिरफ्तार पीडीपी नेता वहीद पर्रा को शुक्रवार को 15 दिन के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की हिरासत में भेज दिया गया। अधिकारियों ने बताया कि पर्रा को इरफान शफी मीर के साथ उसके कथित 'करीबी संबंध' मामले में जम्मू में एनआईए की अदालत में पेश किया गया। मीर को इस वर्ष की शुरुआत में हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी नवीद बाबू और निलंबित किए गए उप पुलिस अधीक्षक दविंदर सिंह के साथ गिरफ्तार किया गया था।

 

अधिकारियों ने बताया कि पर्रा को बुधवार को गिरफ्तार किए जाने के बाद एनआईए ने बृहस्पतिवार को उसे दिल्ली की अदालत में पेश किया था और उसे जम्मू की एक निर्दिष्ट अदालत के समक्ष पेश करने के लिए उसकी ट्रांजिट रिमांड का अनुरोध किया था। अधिकारियों के अनुसार सिंह की हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंवादियों के साथ संबंध की जांच के दौरान एनआईए को मीर के फोन रिकॉर्ड मिले जो यह दिखाते थे कि वह पर्रा के साथ निकट संपर्क में था।

 

अधिकारियों ने बताया कि पूछताछ के दौरान मीर ने दावा किया कि पर्रा ने 2019 में हुए संसदीय चुनाव में पार्टी उम्मीदवार महबूबा मुफ्ती के लिए समर्थन मांगा था।
 


Monika Jamwal

Recommended News