LAC पर चीन की तैयारियां चौंकाने वाली, सीमा पर किए बड़े बदलाव

punjabkesari.in Tuesday, Jun 28, 2022 - 03:40 PM (IST)

नेशनल डेस्क: एक ओर भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (एल.ए. सी.) पर सैन्य जमावड़े को कम करने को लेकर कमांडर स्तर की वार्ताओं के कई दौर हो चुके हैं वहीं चीन पीछे हटने की जगह लगातार अपनी सेना और हथियार एल.ए.सी. पर बढ़ा रहा है। एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने एल.ए.सी. के पश्चिमी सैक्टर में 100 किलोमीटर के दायरे में सैनिकों की संख्या बड़े पैमाने पर बढ़ाई है और लंबी दूरी तक मार करने वाले हथियार, रॉकेट तथा डिफैंस सिस्टम तैनात कर दिए हैं।

सीमा पर बड़े बदलाव
‘द हिंदू’ की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले दो वर्षों में चीन ने एल.ए.सी. के आसपास बड़े बदलाव किए हैं। दो साल पहले जब दोनों देशों के बीच गतिरोध शुरू हुआ चीन के पास एल.ए.सी. के पश्चिमी सैक्टर में सिर्फ 20 हजार सैनिकों को ठहराने की क्षमता थी मगर अब उसने बुनियादी ढांचे का इतना विस्तार कर लिया है कि वह सीमा पर 1 लाख 20 हजार सैनिकों को ठहरा सकता है। उसने एल.ए.सी. पर सौर ऊर्जा और हाइड्रो विद्युत परियोजनाएं भी शुरू की हैं। 

हथियारों की तैनाती
चीन ने इस सीमा पर तीसरी पीढ़ी के आधुनिक हल्के टैंक जैडटीक्यू-15 तैनात किए हैं। बख्तरबंद वाहनों में जैडबीएल-08 की जगह अपग्रेड जैडटीएल-11 को तैनात किया गया है। लंबी दूरी तक मार करने के लिए ट्रक वाले होवित्जर लगाए हैं। 100 कि.मी. रेंज वाला पीएचएल-3 मल्टी रॉकेट लांच सिस्टम लगाया है। 

4 डिवीजनों का खेल
शिनजियांग सैन्य जिले में चीन पीपल्स लिब्रेशन आर्मी (पी.एल.ए.) की 4 डिवीजनों को पूर्वी लद्दाख में समय-समय पर बदलकर तैनात कर रहा है। 2020 में उसने पूर्वी लद्दाख में चौथी और छठी डिवीजन तैनात की थी और 2021 में इसे बदलकर आठवीं और 11वीं डिवीजन तैनात कर दी। अब फिर चौथी और छठी डिवीजन को तैनात किया जा रहा है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anil dev

Related News

Recommended News