See More

J&K: पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के नेता सज्जाद लोन रिहा, 370 हटने के बाद से थे नजरबंद

2020-07-31T18:54:07.557

श्रीनगरः जम्मू कश्मीर पीपुल्स कॉन्फ्रेंस (जेकेपीसी) के अध्यक्ष सज्जाद गनी लोन को करीब एक वर्ष की हिरासत के बाद शुक्रवार को रिहा कर दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने के केन्द्र के कदम के एक वर्ष पूरा होने के कुछ वक्त पहले लोन को रिहा किया गया है। लोन ने रिहा होने की पुष्टि ट्विटर पर की है।

उन्होंने ट्वीट किया,‘‘ एक वर्ष में पांच दिन कम रहने पर मुझे आधिकारिक तौर पर सूचित किया गया कि मैं अब स्वतंत्र व्यक्ति हूं। कितना कुछ बदल गया और मैं भी। जेल जाना कोई नया अनुभव नहीं है। इससे पहले वाले कठोर और शारीरिक यातना के दौर होते थे लेकिन यह मानोवैज्ञानिक तौर पर परेशान करने वाला था। उम्मीद है कि शीघ्र ही कुछ और साझा करूंगा।''

अधिकारियों ने बताया कि जेकेपीसी के अध्यक्ष को इस वर्ष फरवरी में यहां उनके आवास में भेज कर नजरबंद किया गया था। उन्होंने बताया कि केन्द्र द्वारा जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद उन्हें पिछले साल पांच अगस्त को हिरासत में लिया गया था।

पीडीपी-बीजेपी गठबंधन में पूर्व कैबिनेट मंत्री रहे लोन और मुख्यधारा की पार्टियों के अन्य नेताओं को प्रसिद्ध डल झील के किनारे स्थित सेंटूर होटल में अस्थाई जेल में रखा गया था। इसके बाद इन लोगों को एमएलए छात्रावास ले जाया गया था। फरवरी में लोन और पीडीपी नेता वहीद पार्रा को उनके घर में नजरबंद किया गया था।


Yaspal

Related News