चीन से तनाव के बीच भारत ने किया घातक 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का सफल परीक्षण

2020-10-22T12:55:45.133

नेशनल डेस्कः पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ तनाव के बीच भारत ने गुरुवार को वारहेड के साथ 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल के अंतिम चरण का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। मिसाइल का परीक्षण सुबह 6:45 बजे राजस्थान के पोखरण फील्ड फायरिंग रेंज में किया गया। नाग मिसाइल को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने विकसित किया है। नाग एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल DRDO की स्वदेशी वारहेड की सूची में शामिल हो गई है। पिछले डेढ़ महीने में DRDO ने कम से कम 12 मिसाइल परीक्षण या सिस्टम परीक्षण किया है, जो मिसाइलों की मदद से लड़ाकू आवश्यकताओं को पूरा करता है।

 

बता दें कि पिछले काफी समय से DRDO पॉवरफुल मिसाइलों का परीक्षण कर रहा है। DRDO प्रमुख ने कहा कि सेना के लिए स्वदेशी मिसाइलें तैयार की जा रही हैं ताकि इस क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाया जा सके। बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को रक्षा अनुसंधान और विकास में स्टार्ट-अप और माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज सहित भारतीय उद्योग की भागीदारी को प्रोत्साहित करने के लिए DRDO प्रोक्योरमेंट मैनुअल 2020 का एक नया संस्करण जारी किया था। 


Seema Sharma

Related News