एक के बाद एक 14 ट्वीट कर फडणवीस का NCP पार्टी पर निशाना, शरद पवार पर लगाए गंभीर आरोप

punjabkesari.in Thursday, Apr 14, 2022 - 06:58 PM (IST)

नेशनल डेस्क: अनुच्छेद 370, फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स' और इशरत जहां मामले समेत अनेक मुद्दों पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार के बयानों को लेकर उन पर सीधा हमला बोलते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि पवार की पार्टी तुष्टीकरण की राजनीति में लगी है और सांप्रदायिक आधार पर समाज का ध्रुवीकरण कर रही है। बाबासाहेब डॉ भीमराव आंबेडकर की जयंती के मौके पर 14 ट्वीट के साथ फडणवीस ने पवार पर भारतीय संविधान के रचयिता की इच्छाओं और मूल्यों के विपरीत काम करने का आरोप लगाया।

'सबसे पहले ‘हिंदू आतंकवाद' शब्द का उपयोग किया था' 
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता ने आरोप लगाया कि पवार ने सबसे पहले ‘हिंदू आतंकवाद' शब्द का उपयोग किया था। पवार ने हाल में फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स' की आलोचना की थी। उनके इस बयान का जिक्र करते हुए फडणवीस ने कहा कि यह आलोचना पूरी तरह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के दशकों के तुष्टीकरण की नीति तथा सांप्रदायिक आधार पर समाज को बांटने के ट्रैक रिकॉर्ड के अनुरूप है। राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने पवार और राकांपा के खिलाफ अपने आरोपों की पुष्टि के लिए अनेक खबरों के लिंक भी डाले। उन्होंने कुछ खबरों के हवाले से कहा कि पवार दावा कर रहे हैं कि महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक का नाम भगोड़े अपराधी दाऊद इब्राहिम के साथ इसलिए जोड़ा जा रहा है क्योंकि वह मुस्लिम हैं।

'पवार ने कहा- इशरत जहां बेगुनाह है'
प्रवर्तन निदेशालय ने धनशोधन मामले में पिछले महीने मलिक को गिरफ्तार किया था। पूर्व मुख्यमंत्री ने एक और खबर का जिक्र किया जिसके अनुसार पवार ने कहा कि इशरत जहां बेगुनाह है। इशरत जहां को गुजरात में 2004 में कथित फर्जी मुठभेड़ में तीन अन्य लोगों के साथ मार दिया गया था। चारों पर गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने का आरोप था। फडणवीस ने कहा कि 2012 में जब महाराष्ट्र में कांग्रेस और राकांपा सत्ता में थी तो मुंबई के बीचों-बीच आजाद मैदान में हिंसा की शर्मनाक घटना घटी थी। उन्होंने कहा कि अमर जवान ज्योति को अपवित्र किया गया, लेकिन राकांपा ने रजा एकेडमी को लेकर नरम रुख रखा और इसके बाद मुंबई के पुलिस आयुक्त का ही तबादला कर दिया गया।

'महाराष्ट्र में मुस्लिम आरक्षण लाने की बड़ी योजना'
फडणवीस ने कहा, ‘‘राकांपा की महाराष्ट्र में मुस्लिम आरक्षण लाने की बड़ी योजना है जबकि हमारे संविधान में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। कितना शर्मनाक है कि संवैधानिक मूल्यों को लेकर इस तरह वोट बैंक की राजनीति होती है।'' पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पवार ने ‘कश्मीर फाइल्स' फिल्म की आलोचना की क्योंकि यह उनके छद्म धर्मनिरपेक्ष एजेंडा को रास नहीं आ रही। उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीरी पंडितों की परेशानियों की वास्तविक कहानी पर आधारित फिल्म से किसी को क्या मतलब?''


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News