कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद मरीजों की गलने लगीं हड्डियां, डॉक्टर भी हैरान

10/13/2021 12:50:27 PM

पुणे-    जब से कोरोना महामारी फैली है तब से दुनिया भर में इस वायरस का पता लगाने के लिए नए-नए अध्ययन किए जा रहे हैं। वहीं अब ताजा जानकारी सामने आई है कि  कोरोना वायरस संक्रमण से उबरने के बाद भी इसका असर मरीजों का पीछा नहीं छोड़ रहा है।

दरअसल,  पुणे में मिले कुछ नए मामलों में पता लगा है कि कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों में नया फंगल इंफेक्शन  देखा गया है, जो मरीज की रीढ़ की हड्डियों को गंभीर नुकसान पहुंचा रहा है, बता दें कि इससे पहले भी म्यूकरमाइकोसिस ब्लैक फंगस नाम का एक संक्रमण सामने आया था।

 कोविड से उबरने के एक महीने बाद हल्के बुखार के आए लक्षण
इस नए फंगल इंफेक्शन का तब पता चला जब एक 66 वर्षीय मरीज ने कोविड से उबरने के एक महीने बाद हल्के बुखार और कमर में तेज दर्द की शिकायत की थी। शुरुआत में मरीज का इलाज दवाओं के जरिए किया गया, लेकिन बाद में जब MRI स्कैन किया गया, तो पता चला कि एक गंभीर संक्रमण spondylodiscitis का कारण बना।

इस फंगल इंफेक्शन का पता लगाना मुश्किल है, क्योंकि...
 मेडिकल भाषा में इसे Aspergillus Osteomyelitis कहा जाता है। इस फंगल इंफेक्शन का पता लगाना मुश्किल है, क्योंकि यह TB की तरह लगता है, ऐसा फंगल इंफेक्शन कोविड से उबर चुके मरीजों के मुंह में पाया जाता है और दुर्लभ मामलों में इसकी मौजूदगी फेफड़ों में भी होती है। 

 विशेषज्ञ ने दी यह जानकारी
एक रिपोर्ट के मुताबिक, इन मामलों के बारे में एक विशेषज्ञ ने बताया कि अब तक Aspergillus Fungi के कारण हुए Vertebral Osteomyelitis को तीन महीनों में चार मरीजों में देखा गया है। भारत में कोविड से उबर चुके मरीजों में Vertebral Osteomyelitis नहीं दर्ज किया गया था। 

कब होती है यह समस्या
इन सभी चारों मामलों में एक बात जो समान थी वह यह थी कि कोविड से गंभीर रूप से बीमार थे और कोविड के चलते हुए निमोनिया और संबंधित परेशानियों के लिए इन्हें स्टेरॉयड्स दिए गए थे,  इससे पहले कोलकाता में कोविड को हराने वाले कई लोगों की आवाज प्रभावित होने के मामले भी देखे गए थे। इससे पहले ब्लैक फंगस के कई मरीज मिले थे, यह तब हमला करता था, जब शरीर की इम्युनिटी कम हो। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Related News

Recommended News