लॉजिस्टिक्स सेवाओं के मामले में जम्मू-कश्मीर को शेष भारत से जोड़ने को प्रतिबद्ध : डीपी वर्ल्ड

10/18/2021 7:29:38 PM

श्रीनगर: प्रमुख लॉजिस्टिक कंपनियों में से एक डीपी वर्ल्ड दुबई ने सोमवार को कहा कि वह जम्मू-कश्मीर की वास्तविक व्यावसायिक क्षमता को उभारने के लिए लॉजिस्टिक सेवाओं के मामले में उसे शेष भारत और दुनिया से जोड़ने को प्रतिबद्ध है।

 

डीपी वर्ल्ड दुबई के चेयरमैन और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) सुल्तान अहमद बिन सुलायेम ने यहां संवाददाताओं से कहा, "हम जम्मू-कश्मीर को शेष भारत से जोड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं। हम जानते हैं कि यह कैसे करना है, हम बाधाओं को जानते हैं।" सुलायेम ने कहा कि उनकी फर्म द्वारा किया गया निवेश 'मेक इन इंडिया' पहल का हिस्सा होगा और कश्मीर से निकले कई उत्पाद दुनिया तक पहुंचेंगे।

 

उन्होंने विश्व स्तर पर बाजार हासिल करने की क्षमता रखने वाले उत्पादों के बारे में बात करते हुए कहा, "यह देश सुंदर है और इस क्षेत्र में विशाल संभावनाएं हैं। कालीन जैसे कई उत्पाद हैं जो मैंने देखे हैं, जो दुनिया में सबसे अच्छे हैं, कृषि उत्पाद भी हैं।" सुलायेम ने कहा कि समस्या यह है कि उत्पादों को बाजार की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उन्हें बताया गया है कि श्रीनगर हवाईअड्डा २३ अक्टूबर से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संचालित होने जा रहा है जो एक बडे लाभ की बात है।

 

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा कि दुबई सरकार और जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक समझौता किया है, जो केंद्र शासित प्रदेश को औद्योगिकीकरण और सतत विकास में नई ऊंचाइयों को छूने में मदद करेगा।

 

उन्होंने कहा, "केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर की विकास यात्रा के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है। जम्मू-कश्मीर के अभूतपूर्व विकास के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का हार्दिक आभार। यह समझौता ज्ञापन आत्मानिर्भर जम्मू-कश्मीर बनाने की हमारी प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है।"


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Monika Jamwal

Related News

Recommended News