सीएम विजय रूपाणी का दावा- गुजरात में ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई किसी मरीज की मौत

2021-07-22T06:36:28.467

अहमदाबादः गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बुधवार को दावा किया कि महामारी की दूसरी लहर के दौरान चिकित्सकीय ऑक्सीजन की कमी के कारण राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई। केंद्र सरकार ने एक दिन पहले राज्यसभा को बताया कि इस साल कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान किसी भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश ने ऑक्सीजन के अभाव में किसी मरीज की मौत की सूचना नहीं दी है। 
PunjabKesari
सरकार के इस बयान के बाद शुरू हुए विवाद के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री रूपाणी ने जूनागढ़ में मीडिया से कहा, ‘‘गुजरात में ऑक्सीजन की कमी के कारण कोविड-19 के किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई। दूसरी लहर के दौरान राज्य के अस्पतालों में 8.5 लाख से ज्यादा मरीजों का उपचार हुआ। इनमें 8.25 लाख मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं।'' 
PunjabKesari
रूपाणी ने कहा, ‘‘हमने कोविड-19 के मरीजों के इलाज के लिए कई अस्पताल निर्धारित किए। एक भी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत की सूचना नहीं है। हमने ऑक्सीजन की आपूर्ति के पर्याप्त इंतजाम किए थे। विपक्षी दल झूठे आरोप लगाकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं।'' 

कांग्रेस ने मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार पर ‘‘झूठी जानकारी'' देकर संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया था कि ऑक्सीजन की कमी के कारण किसी की मौत नहीं हुई थी। इससे पहले पड़ोस के मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्रियों ने भी कहा था कि ऑक्सीजन की कमी के कारण उनके राज्य में किसी मरीज की मौत नहीं हुई। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Recommended News