मानहानि मामला: जावेद अख्तर ने कंगना के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने का अनुरोध किया

punjabkesari.in Tuesday, Dec 14, 2021 - 09:42 AM (IST)

मुंबई, 13 दिसंबर (भाषा) जाने माने पटकथा लेखक-गीतकार जावेद अख्तर ने सोमवार को यहां एक अदालत में एक अर्जी दायर कर अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ आपराधिक मानहानि मामले में गैर-जमानती वारंट जारी करने का अनुरोध किया।

अख्तर के वकील जय भारद्वाज की ओर से दाखिल अर्जी में इस साल मार्च के बाद से रनौत द्वारा किसी न किसी वजह से छूट की मांग के अनुरोध का उल्लेख किया गया है। रनौत आखिरी बार 20 सितंबर को अंधेरी मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट आर आर खान के सामने पेश हुई थीं।

अर्जी में यह भी उल्लेख किया गया है कि अभिनेत्री ने अदालत के समक्ष ‘‘झूठे और गलत बयान’’ दिए हैं। अख्तर की अर्जी के अनुसार, रनौत ने सुनवाई की आखिरी तारीख 21 अक्टूबर को यह दावा करते हुए पेशी से छूट मांगी थी कि वह तेज बुखार और शरीर में दर्द से पीड़ित थीं। अर्जी में कहा गया है कि रनौत ने दावा किया था कि वह अस्वस्थ थीं लेकिन 15 नवंबर को इंस्टाग्राम पर उनकी गतिविधियों से पता चलता है कि वह अपनी आगामी फिल्म की शूटिंग को लेकर काफी सक्रिय थीं।

अभिनेत्री ने अपने वकील के माध्यम से यह भी कहा था कि वह मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट (सीएमएम) अदालत द्वारा उनकी स्थानांतरण याचिका को खारिज करने के आदेश को चुनौती देने की प्रक्रिया में हैं। अर्जी में कहा गया है कि रनौत ने सीएमएम अदालत के आदेश को चुनौती देने के लिए अभी तक कोई याचिका दायर नहीं की है।

अख्तर की अर्जी में कहा गया है, ‘‘आरोपी के आचरण से यह स्पष्ट रूप से समझा जा सकता है कि इस अदालत (अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अदालत) द्वारा प्रक्रिया जारी करने के समय से ही उन्होंने (रनौत) मामले में अत्यधिक देरी करने के लिए जानबूझ कर अनुपस्थिति के कारण पूरी तरह से कार्यवाही को पटरी से उतारने और शिकायतकर्ता के समक्ष बेहिसाब कठिनाईयां पैदा करने का प्रयास किया है।’’
अदालत ने अर्जी पर रनौत के वकील को सुनवाई की अगली तारीख चार जनवरी को अपना जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। अदालत ने रनौत के वकील को अगली सुनवाई पर अभिनेत्री की उपस्थिति सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया।

इससे पहले, एक मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट ने आपराधिक मानहानि मामले को स्थानांतरित करने के संबंध में रनौत की याचिका को खारिज कर दिया था। अख्तर (76) ने नवंबर 2020 में अंधेरी की अदालत में शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें दावा किया गया था कि रनौत ने एक टेलीविजन साक्षात्कार में उनके खिलाफ अपमानजनक बयान दिया था। अख्तर ने दावा किया कि अभिनेत्री ने पिछले साल जून में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत द्वारा कथित आत्महत्या के बाद बॉलीवुड में मौजूद एक ‘‘गुट’’ का जिक्र करते हुए उनका नाम घसीटा था।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News