मुनाफावसूली से शेयर बाजार रिकार्ड ऊंचाई से नीचे आये, साप्ताहिक आधार पर लाभ में रहे

09/18/2021 9:07:27 AM

मुंबई, 17 सितंबर (भाषा) शेयर बाजारों में पिछले तीन दिनों से जारी तेजी पर शुक्रवार को विराम लग गया और बीएसईएस सेंसेक्स 125 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ। हालांकि, कारोबार के दौरान शुरुआत में सूचकांक रिकार्ड ऊंचाई तक चले गये थे लेकिन अंत में निवेशकों की रिलायंस इंडस्ट्रीज, धातु और आईटी शेयरों में मुनाफासूली से बाजार नीचे आ गये।

कारोबार के दौरान तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स में 866 अंक का उतार-चढ़ाव आया। अंत में यह 125.27 अंक यानी 0.21 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,015.89 अंक पर बंद हुआ।
इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 44.35 अंक यानी 0.25 प्रतिशत फिसलकर 17,585.15 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 17,792.95 अंक के उच्चतम स्तर तक चला गया था।

सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक 3.57 प्रतिशत के नुकसान में टाटा स्टील का शेयर रहा। इसके अलावा, एसबीआई, टीसीएस, एचयूएल, रिलायंस इंडस्ट्रीज, सन फार्मा और आईसीआईसीआई बैंक में प्रमुख रूप से गिरावट रही।

दूसरी तरफ, कोटक बैंक, एचडीएफसी बैंक, भारती एयरटेल, मारुति, नेस्ले इंडिया और बजाज फिनसर्व में 5.26 प्रतिशत की तेजी रही।
साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 710 अंक यानी 1.21 प्रतिशत जबकि निफ्टी 215.90 अंक यानी 1.24 प्रतिशत ऊंचे रहे।

एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘टीकाकरण की तेज गति और निर्यात आंकड़ा उत्साहजनक रहने के साथ बाजार 60,000 के करीब पहुंचा .... लेकिन जीएसटी परिषद की बैठक के परिणाम आने से पहले मुनाफावसूली के कारण लाभ बरकरार नहीं रह पाया।’’
जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि मजबूत शुरूआत के बावजूद घरेलू शेयर बाजार मुनाफावसूली और वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के साथ अंत में हल्की गिरावट के साथ बंद हुए।
उन्होंने कहा, ‘‘सरकार की तरफ से बैंकों में दबाव वाली संपत्ति के निपटान को लेकर राष्ट्रीय संपत्ति पुनर्निर्माण कंपनी लि. के लिये 30,600 करोड़ रुपये की गारंटी की मंजूरी के बावजूद मुनाफावसूली के सबसे ज्यादा शिकार सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ही रहें ...।’’
एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई, टोक्यो, सियोल और हांगकांग लाभ में रहें। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर कारोबार में तेजी का रुख रहा।

इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.54 प्रतिशत फिसलकर 75.26 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर चार पैसे की बढ़त के साथ 73.48 पर बंद हुई।

शेयर बाजार के आंकड़े के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक बृहस्पतिवार को पूंजी बाजार में शुद्ध लिवाल रहे। उन्होंने 1,621.88 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News