मुंबई में 24 घंटे में मकान ढहने की दो घटनाओं में आठ बच्चों समेत 13 की मौत

2021-06-10T23:38:18.003

मुंबई, 10 जून (भाषा) मुंबई में पिछले चौबीस घंटे में मकान ढहने की दो अलग- अलग घटनाओं में करीब 13 लोगों की मौत हो गई जिनमें आठ बच्चे भी शामिल हैं । एक घटना उपनगरीय इलाके दहीसर तो दूसरी मलवानी की है।
मुंबई के मलवनी इलाके में बुधवार देर रात तीन मंजिला इमारत की दो मंजिलों के पास के एक मंजिला मकान पर गिरने से आठ बच्चों सहित 12 लोगों की मौत हो गई और सात अन्य लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई में उपनगरीय मलाड के मलवनी इलाके में अब्दुल हमीद रोड के न्यू क्लेक्टर कम्पाउंड में बुधवार रात करीब सवा 11 बजे यह हादसा हुआ, जिस दिन मुंबई में दिन भर भारी बारिश हुई।

पुलिस ने बताया कि जर्जर इमारत का निर्माण अवैध रूप से किया गया था। पिछले महीने मुंबई तट के करीब से गुजरे चक्रवात ताउते में उसको काफी नुकसान हुआ था।

पुलिस ने बताया कि उसके ठेकेदार को गैर इरादतन हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। महाराष्ट्र सरकार ने मकान ढहने से मरने वालों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की, जबकि केंद्र सरकार उन्हें अतिरिक्त दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देगा। महानगरपालिका के अधिकारियों ने पहले बताया था कि एक मंजिला मकान ढह गया है और अब उसने तीन मंजिला इमारत के ढहने की जानकारी दी।

शहर के पी-नार्थ वार्ड के कार्यवाहक वार्ड अधिकारी संतोष धोंडे ने बताया कि तीन मंजिला इमारत की दूसरी तथा तीसरी मंजिल पास ही के एक मंजिला मकान पर गिर गई। बीएमसी के अधिकारी ने बताया कि दमकल विभाग तथा अन्य एजेंसियों के कर्मी तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे और बचाव एवं तलाश अभियान शुरू किया।
उन्होंने बताया कि हादसे में आठ बच्चों और चार वयस्क लोगों की मौत हो गई है। सात अन्य घायल हुए हैं और उनमें से एक की हालत गंभीर है। मलबे से निकाले गए घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मृतकों की पहचान, साहिल सरफराज सैय्यद (9), आरिफा शेख (9), शफीक मोहम्मद सलीम सिद्दीकी (45), तौसीफ शफीक सिद्दीकी (15), आलीशा शफीक सिद्दीकी (10), अल्फीसा शफीक सिद्दीकी (डेढ़ वर्ष), आफिना शफीक सिद्दीकी (6), इशरत बानो शफीक सिद्दीकी (40), रहीसा बानो रफीक सिद्दीकी (40), तहेस शफीक सिद्दीकी (12), जॉन इरन्ना (13) और 60 वर्षीय व्यक्ति सरदार के तौर पर हुई है।

महानगरपालिका और दमकल विभाग के अधिकारियों के अनुसार, कुछ और लोग भी मलबे में फंसे हो सकते हैं और उनकी तलाश जारी है।

बीएमसी के अनुसार, ढह गई इमारत कलेक्टर की जमीन पर स्थित थी और इसके मालिक को स्थायी संरचना के निर्माण के दौरान कलेक्टर कार्यालय से अनुमति मिली थी, जबकि संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) विश्वास नांगरे पाटिल ने पत्रकारों को बताया कि इमारत का निर्माण गैरकानूनी तरीके से किया गया था और इसके ढांचे में गंभीर खामियां थी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि निर्माण ठेकेदार रमजान नबी शेख, उसके मालिक रफीक सिद्दीकी (जिन्होंने अपने परिवार के नौ सदस्यों को खो दिया) और अन्य के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 304(2), 336, 337, 338 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (उत्तरी क्षेत्र) दिलीप सावंत ने बताया कि घटना के बाद पुलिस ने मलवानी निवासी ठेकेदार रमजान शेख (34) को पूछताछ के लिए पकड़ा और बाद में गिरफ्तार कर लिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति दुख जताया और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। साथ ही उन्होंने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए दो-दो लाख रुपये और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से किए गए ट्वीट के मुताबिक, मोदी ने कहा, ‘‘मुंबई के पश्चिमी मलाड में एक ढांचे के ध्वस्त होने के कारण हुई मौतों से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’’ एक अन्य ट्वीट में पीएमओ ने कहा कि प्रधानमंत्री ने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए दो-दो लाख रुपये और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि की घोषणा की।

महाराष्ट्र सरकार ने घटना में जान गंवाने वाले प्रत्येक व्यक्ति के परिजनों को पांच- पांच लाख रुपये का मुआवजा देने और घायलों के इलाज का खर्च भी उसके द्वारा ही उठाए जाने की घोषणा की।
मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी बयान के मुताबिक, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हादसे में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया और बृहस्पतिवार को शहर के शताब्दी अस्पताल का दौरा कर वहां भर्ती घायलों की हालत की जानकारी ली।
एक अन्य घटना में मुंबई के पश्चिमी उपनगर दहीसर में स्थित एक चॉल में बृहस्पतिवार शाम तीन मकान गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।
उन्होंने बताया कि घटना दहीसर पूर्व के शिवाजी नगर इलाके के लोखंडी चॉल में शाम करीब 6.36 बजे हुई।

गौरतलब है कि मुंबई में पिछले चौबीस घंटे में मकान ढहने की यह दूसरी और इस सप्ताह तीसरी घटना है।
बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के अधिकारियों ने बताया कि सूचना मिलने पर दमकल विभाग और अन्य एजेंसियों के कर्मी मौके पर पहुंचे। दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि एक व्यक्ति को मौके से बचाया गया और उसे कांदिवली के शताब्दी अस्पताल ले जाया गया। उन्होंने बताया, "हालांकि, अस्पताल के डॉक्टरों ने 26 वर्षीय प्रद्युम्न सरोज को भर्ती से पहले मृत घोषित कर दिया।"

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News