हाथरस सामूहिक बलात्कार की घटना से नाराज है बॉलीवुड, कर रहा है न्याय की मांग

punjabkesari.in Tuesday, Sep 29, 2020 - 10:35 PM (IST)

मुंबई, 29 सितंबर (भाषा) बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार, फरहान अख्तर, रिचा चड्ढा और अभिषेक बच्चन सहित अन्य अभिनेताओं ने उत्तर प्रदेश के हाथरस में 19 साल की युवती से सामूहिक बलात्कार और उसकी मौत के मामले में दोषियों के लिए ‘‘कठोर सजा’’ की मांग की है।

युवती से 14 सितंबर को सामूहिक बलात्कार हुआ। उसे अलीगढ़ के जवाहर लाल नेहरु मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसकी हालत में कोई सुधार नहीं होने पर सोमवार को उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया।

अक्षय कुमार ने ट्विटर पर लिखा है कि घटना से वह बहुत ‘‘क्षुब्ध और निराश हैं’’ और उन्होंने दोषियों को फांसी देने की मांग की है।

उन्होंने ट्वीट किया है, ‘‘हाथरस सामूहिक बलात्कार में इतनी क्रूरता, बर्बरता। कब रूकेगा ये सब? हमारे कानून और उनका अनुपालन इतना कड़ा होना चाहिए कि सजा की सोच कर ही बलात्कार करने वालों की रूह कांप जाये। ऐसे दोषियों को फांसी पर लटका देना चाहिए। बेटियों और बहनों की सुरक्षा के लिए आवाज उठाएं। हम कम से कम इतना तो कर सकते हैं।’’
अभिषेक बच्चन ने ट्वीट किया है, ‘‘ये बंद होना चाहिए। ये निराशा के हद से भी आगे है।’’
रितेश देशमुख ने भी समान राय व्यक्त की । उनका मानना है कि ऐसा अपराध करने वालों को ‘‘सार्वजनिक रूप से फांसी दी जानी चाहिए।’’
अभिनेत्री कृति शेनन ने इसे अंदर तक झंकझोर देने वाली घटना करार देते हुए आरोपियों के लिए ‘‘बेहद डरावनी सजा की मांग की है।’’
उन्होंने लिखा है, ‘‘ये शैतान अब इन अमानवीय कृत्यों के परिणामों को समझेंगे? मैं ऐसी कोई सजा नहीं सोच पा रही जो इस बर्बरता के लिए पर्याप्त हो। फांसी देना? सिर में गोली मारना? सार्वजनिक रूप से पत्थर मारकर हत्या करना? फिर भी लगता है कि ये सबकुछ कम ही है।’’
बलात्कार के बाद आरोपियों ने युवती का गला घोंट कर उसकी हत्या करनी चाही थी और उनसे बचने के प्रयास में उसने अपनी ही जीभ काट ली।

अलीगढ़ अस्पताल के प्रवक्ता ने बताया था कि युवती के पैर काम नही कर पा रहे थे जबकि हाथों ने आंशिक रूप से काम करना बंद कर दिया था।

रिचा चड्ढा ने लिखा है, ‘‘हाथरस पीड़िता को न्याय मिले। सभी को सम्मान के साथ जीने का अधिकार है। दोषियों को सजा दो।’’
फरहान अख्तर ने दिल टूटने का इमोजी पोस्ट करते हुए लिखा है ‘‘यह बहुत दुखद, दुखद दिन है।’’
उन्होंने लिखा है, ‘‘इसे कब तक चलने देंगे हम।’’
स्वरा भास्कर ने कहा कि क्रूर/बर्बर सामूहिक बलात्कार इस बात का सबूत है कि पैशाचिक प्रवृत्ति का कोई ओर-छोर नहीं है।

अभिनेत्री ने कहा, ‘‘हम बीमार, अमानवीय समाज हो गए हैं। शर्मनाक है। दुखद।’’
हुमा कुरैशी का कहना है कि लोग कब तक ऐसे ‘‘क्रूर अपराध को बर्दाश्त’’ करते रहेंगे।

उन्होंने लिखा है, ‘‘इस बर्बर अपराध के दोषियों को सजा मिलनी चाहिए।’’
अभिनेत्री दीया मिर्जा का कहना है कि समाज ने हाथरस की युवती को असहाय बना दिया।

अभिनेत्री यामी गौतम ने कहा, ‘‘यह दुखद है कि महिलाओं के साथ हमेशा ऐसी क्रूरता होती है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

PTI News Agency

Related News

Recommended News