पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा को नेताओं ने जन्मदिन की बधाई दी, मोदी ने उन्हें सम्मानित राजनेता कहा

punjabkesari.in Wednesday, May 18, 2022 - 05:05 PM (IST)

बेंगलुरु, 18 मई (भाषा) पूर्व प्रधानमंत्री और जद (एस) प्रमुख एच डी देवेगौड़ा को बुधवार को उनके 89वें जन्मदिन पर विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने बधाई दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें सम्मानित राजनेता बताते हुए शुभकामनाएं दीं।

तेरह दलों के संयुक्त मोर्चे के नेता के रूप में उभरने के बाद देवेगौड़ा एक जून 1996 से 21 अप्रैल 1997 तक प्रधानमंत्री रहे। वह देश के 11वें प्रधानमंत्री थे। उनकी सरकार को बाहर से कांग्रेस का समर्थन प्राप्त था।

वह 1994 से 1996 तक कर्नाटक के 14वें मुख्यमंत्री थे।

"मन्निना मागा" (माटी पुत्र) के रूप में जाने जाने वाले देवेगौड़ा प्रधानमंत्री के पद पर पहुंचने वाले एकमात्र कन्नडिगा और पी वी नरसिंह राव के बाद दूसरे दक्षिण भारतीय हैं।

मोदी ने एक ट्वीट में कहा, "हमारे पूर्व प्रधानमंत्री और सम्मानित राजनेता एच डी देवेगौड़ा को जन्मदिन की शुभकामनाएं। ईश्वर उन्हें स्वस्थ और दीर्घायु जीवन प्रदान करें।"
देवेगौड़ा ने मोदी की बधाई के जवाब में ट्वीट किया: "धन्यवाद, माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। मैं वास्तव में आपकी हार्दिक शुभकामनाओं के लिए सराहना करता हूं।"
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने सुबह फोन पर देवेगौड़ा से बात की और उनके स्वस्थ एवं दीर्घायु जीवन की कामना की।

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक बयान के अनुसार बोम्मई ने देवेगौड़ा से कहा, "ईश्वर आपको लंबे समय तक राज्य की सेवा करने के लिए स्वस्थ और दीर्घायु जीवन प्रदान करें।"
पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा और सिद्धरमैया तथा राज्य सरकार के मंत्रियों सहित कर्नाटक के विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी देवेगौड़ा को जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं।

देवेगौड़ा को बधाई देने वालों में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव समेत कई केंद्रीय मंत्री और राजनीतिक नेता शामिल रहे।

पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा वर्तमान में कर्नाटक से राज्यसभा के सदस्य हैं। वह एक साल से भी कम समय (324) तक देश के प्रधानमंत्री रहे थे क्योंकि कांग्रेस ने उनकी सरकार से समर्थन वापस ले लिया था।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News