सुनिश्चित करूंगा कि सिद्धरमैया 2023 के बाद भी विपक्ष में ही रहें : येदियुरप्पा

09/14/2021 10:36:02 AM

बेंगलुरु, 13 सितंबर (भाषा) कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने पद त्यागने के बाद सोमवार को पहली बार विधानसभा के सत्र में हिस्सा लिया और कहा कि वह एक आम भाजपा विधायक की तरह काम करेंगे और हर वह कोशिश करेंगे जिससे वर्ष 2023 के विधानसभा चुनाव के बाद भी कांग्रेस नेता सिद्धरमैया विपक्ष में ही बने रहें।
कर्नाटक में भाजपा के ताकतवर नेता येदियुरप्पा ने कहा कि उनके उत्तराधिकारी बसवराज बोम्मई मुख्यमंत्री के तौर पर ‘अच्छा काम’ कर रहे हैं और वह उनका हर तरीके से सहयोग करेंगे।
विधायक के तौर पर विधानसभा के सत्र में शामिल होने के सवाल पर उन्होंने कहा,‘‘मेरे मन में कुछ भी नहीं है और मुझे एक आम भाजपा विधायक के तौर पर काम करके सबसे अधिक खुशी होगी। ऐसा नहीं है कि मैं केवल मुख्यमंत्री के तौर पर ही काम करना चाहता हूं। विधायक के तौर पर सदन में पीछे की कुर्सी पर बैठक कर मैं सरकार के अच्छे काम की प्रशंसा करूंगा और आने वाले दिनों में भी विपक्षी पार्टियां, विपक्ष में रहें यह सुनिश्चित करने के लिए सब कुछ करूंगा।’’
संवाददाताओं से बातचीत में येदियुरप्पा ने कहा कि वह अन्य पार्टी नेताओें के साथ भाजपा के लिए काम करते रहेंगे और विधानसभा सत्र के बाद पूरे राज्य का दौरा करेंगे।
उन्होंने कहा, ‘‘ सिद्धरमैया (विधानसभा में मौजूदा नेता प्रतिपक्ष) अगर अगले चुनाव में जीतते हैं तो विपक्ष में ही बैठें, यह सुनिश्चित करने के लिए हम सब कुछ करेंगे...भाजपा को दोबारा सत्ता में लाना मेरा संकल्प है और मैं अन्य नेताओं के साथ पूरे राज्य का दौरा करूंगा।’’
रोचक तथ्य है कि जहां मार्च में विधानसभा सत्र के दौरान येदियुरप्पा सत्ता पक्ष का नेतृत्व कर रहे थे। वहीं, सोमवार से शुरू विधानसभा के 10 दिवसीय मानसून सत्र के पहले दिन वह पीछे की कुर्सी पर बैठे।
इस संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, ‘‘ ऐसा व्यक्ति होने के नाते, जो मुख्यमंत्री था, मैंने विधानसभा अध्यक्ष से अनुरोध किया था कि वह मुझे मुख्य सचेतक के बगल वाली सीट आवंटित करें, वह इसके लिए सहमत हो गए हैं। मैं विधानसभा की कार्यवाही में वहीं से हिस्सा लूंगा।’’


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News