‘भाजपा मां समान है, प्रदर्शन या अनुशासनहीनता न करें’: येदियुरप्पा ने समर्थकों से कहा

2021-07-22T10:59:04.493

बेंगलुरु, 21 जुलाई (भाषा) मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने की अटकलों के बीच समर्थन में उठ रहे स्वरों को लेकर बी एस येदियुरप्पा ने अपने समर्थकों व शुभचिंतकों से आग्रह किया है कि वे किसी प्रकार का विरोध प्रदर्शन या अनुशासनहीनता न करें जिससे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को शर्मिंदगी झेलनी पड़े।
मुख्यमंत्री (78) ने कहा कि उनके लिए पार्टी “मां समान” है।

उन्होंने ट्वीट किया, “मुझे गर्व है कि मैं भाजपा का वफादार कार्यकर्ता हूं। मेरे लिए यह सम्मान की बात है कि मैंने उच्च आदर्शों का पालन करते हुए पार्टी की सेवा की है। मैं सभी से आग्रह करता हूं कि पार्टी के संस्कारों के अनुरूप आचरण करें और ऐसा कोई प्रदर्शन या अनुशासनहीनता न करें जिससे पार्टी को शर्मिंदगी झेलनी पड़े।”
उन्होंने कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम के परिप्रेक्ष्य में उनके पक्ष में बयान न दें और किसी विरोध प्रदर्शन में शामिल न हों। उन्होंने कहा, “आपकी शुभेच्छाओं को अनुशासन की सीमा नहीं लांघनी चाहिए। पार्टी मेरे लिए मां के समान है और इसके अपमान से मुझे कष्ट होगा। मुझे लगता है कि मेरे सच्चे शुभचिंतक मेरी भावनाओं को समझेंगे।”
येदियुरप्पा के पद से हटने की अटकलों के बीच उन्हें मठों, संतों तथा नेताओं का अपार समर्थन मिल रहा है। वीरशैव लिंगायत समुदाय और अखिल भारतीय वीरशैव महासभा ने येदियुरप्पा को समर्थन देने की घोषणा की है और उनसे मुख्यमंत्री के पद पर काम करते रहने का आग्रह किया है।
इसके अलावा समुदाय के नेताओं ने चेतावनी दी है कि अगर येदियुरप्पा को हटाया गया तो भाजपा को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।
सांसद जी एम सिद्धेश्वर और पूर्व विधायक बी सुरेश गौड़ा ने येदियुरप्पा को समर्थन देने वाला बयान दिया है। उन्होंने विश्वास जताया है कि वह मुख्यमंत्री के पद पर बने रहेंगे क्योंकि पार्टी आलाकमान ने उन्हें पद छोड़ने को नहीं कहा है।

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News