श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग चार दिनों बाद फिर से खुला

2020-01-17T15:33:29.357

श्रीनगर: श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग को हिमपात और भूस्खलन के कारण चार दिनों से बंद रखने के बाद शुक्रवार को वाहनों की आवाजाही के फिर से खोल दिया गया है। यातायात पुलिस अधिकारी ने आज सुबह बताया कि श्रीनगर से जम्मू की ओर जाने वाले वाहन आज राजमार्ग पर चलेंगे और दूसरी ओर से वाहनों को अनुमति नहीं दी गई है। ठंड और अत्यधिक फिसलन की स्थिति के बाद हालांकि विशेष रूप से काजीगुंड से बनिहाल और शैतान नाला के बीच यात्रियों के लिए सड़कों स्थिति ठीक होने के बाद ही यातायात की अनुमति दी गई थी। 

PunjabKesari

उन्होंने बताया कि श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग में सोमवार को भारी हिमपात के कारण काजीगुंड, जवाहर सुरंग, बनिहाल और शैतान नाला और कई स्थानों पर पत्थर गिरने की ताजा घटनाओं को ध्यान में रखते हुए वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी थी। लेकिन भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकारण (एनएचएआई) ने गुरुवार अपराह्न अत्याधुनिक मशीनों से राजमार्ग पर बफऱ् और भूस्खलन के बाद आए मलबे को हटाने का काम शुरू किया। अधिकारी ने बताया कि राजमार्ग को एक ओर से खोल दिए जाने के बाद रास्ते में फंसे हुए वाहनों को अपने गंतव्य स्थान की ओर जाने की अनुमति दी गई है। ट्रकों, आवश्यक वस्तुओं के अलावा तेल, डीजल और एलपीजी टैंकर को कश्मीर की ओर आने की अनुमति दी गई है। 

PunjabKesari

राजमार्ग पर लगातार वाहनों की आवाजाही को रोकने से कश्मीर घाटी के लोग जरुरत की वस्तुओं, ताजा सब्जियों, एलपीजी और अन्य वस्तुओं की अत्यधिक कमी का सामना कर रहे हैं। घाटी के लोग देश के अन्य हिस्सों से आने वाली वस्तुओं पर पूरी तरह निर्भर रहते हैं। विशेषकर दिल्ली, पंजाब और राजस्थान से आने वाले सामान पर ये लोग निर्भर रहते हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद रहने के बाद से आवश्यक वस्तुओं की कमी होने से इनके दाम तेजी से बढ़ गए है। श्रीनगर-लेह का 434 किलोमीटर लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग और 86 किलोमीटर लंबा ऐतिहासिक मुगल रोड फिर से बंद पड़ा है और अत्यधिक हिमपात और फिसलन के कारण अप्रैल-मई से पहले इस रोड के खुलने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं। 


Author

rajesh kumar

Related News